Friday, 23 October 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

कोरोना अपडेट: भारत में बीते दिन 63 हजार नए केस आए, 70 हजार ठीक हुए

जनता जनार्दन संवाददाता , Oct 16, 2020, 9:52 am IST
Keywords: India   Corona Case   India Death Case  
फ़ॉन्ट साइज :
कोरोना अपडेट: भारत में बीते दिन 63 हजार नए केस आए, 70 हजार ठीक हुए

दिल्ली: भारत में भले ही कोरोना संक्रमण के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं, लेकिन असल में संक्रमण का असर कम होता भी दिख रहा है. देश में पिछले 24 घंटों में 63,371 नए कोरोना मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 70,338 मरीज ठीक भी हो गए. हालांकि 895 मरीजों की जान भी चली गई. दुनिया में अबतक हर दिन सबसे ज्यादा कोरोना मामले भारत में आ रहे थे, लेकिन बीते दिन काफी दिनों बाद भारत में अमेरिका से कम मामले आए हैं. अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 66,129 मामले आए और 874 मौत हुई.


देश में 73 लाख से ज्यादा हुए संक्रमित
स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 73 लाख 70 हजार के पार पहुंच गई है. इनमें से एक लाख 12 हजार 161 मरीजों की मौत हो चुकी है. वहीं रिकवरी मामलों की संख्या 64 लाख 53 हजार तक पहुंच गई है और एक्टिव केस की संख्या घटकर 8 लाख 4 हजार पर आ गई है. संक्रमण के एक्टिव केस की संख्या की तुलना में रिकवर हुए लोगों की संख्या छह गुना ज्यादा है. महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में कोरोना वायरस के एक्टिव केस, मृत्यु दर और रिकवरी रेट का प्रतिशत सबसे ज्यादा है.


ICMR के मुताबिक, 15 अक्टूबर तक कोरोना वायरस के कुल 9 करोड़ 22 लाख सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 10,28,622 सैंपल की टेस्टिंग कल की गई. पॉजिटिविटी रेट करीब सात फीसदी है.


सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में एक्टिव केस
देश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. महाराष्ट्र के बाद आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं. एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का दूसरा स्थान है. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है. मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है.


राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. मृत्यु दर गिरकर 1.52% हो गई. इसके अलावा एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर भी घटकर 11% हो गई है. इसके साथ ही रिकवरी रेट यानी ठीक होने की दर 87% पर है. भारत में रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है.

अन्य स्वास्थ्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack