8 जून से Unlock-1, खुल जाएंगे धार्मिक स्थान, शॉपिंग मॉल

जनता जनार्दन संवाददाता , May 31, 2020, 9:14 am IST
Keywords: Explainer   8 जून से Unlock-1   धार्मिक स्थान   शॉपिंग मॉल  
फ़ॉन्ट साइज :
8 जून से Unlock-1, खुल जाएंगे धार्मिक स्थान, शॉपिंग मॉल

दिल्ली: देश में 8 जून से लॉकडाउन खत्म हो जाएगा और अनलॉक वन शुरू हो जाएगा. लॉकडाउन सिर्फ कंटेनमेंट जोन में 30 जून तक लागू होगा. कंटेनमेंट जोन में सिर्फ एसेंशियल सर्विसेज के लिए अनुमति होगी और नाइट कर्फ्यू रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक देश भर में लागू होगा. कल गृह मंत्रालय ने निर्देश दिए गए हैं कि समूची जीवन व्यवस्था को पटरी पर वापस लाने के लिए 3 चरणों में प्रयास किए जाएंगे. इसके तहत राज्यों को व्यापक अधिकार दिए गए हैं.


तीन फेज में खुलेगा देश

  • फेज 1 - आठ जून से धार्मिक स्थान, शॉपिंग मॉल, रेस्त्रां खुलेंगे. इसके लिए एसओपी स्वास्थ्य मंत्रालय जारी करेगा.
  • फेज 2- स्कूल-कॉलेज खोलने को लेकर जुलाई में फैसला होगा.
  • फेज 3- स्थिति की समीक्षा के बाद ही अंतरराष्ट्रीय उड़ानों, मेट्रो, सिनेमा, जिम, स्वीमिंग पुल, बार, असेंबली हॉल को खोलने का फैसला होगा.

अंतरराज्यीय परिवहन पर रोक नहीं

  • अंतरराज्यीय परिवहन पर रोक नहीं होगी, हालांकि राज्य चाहें तो इस परिवहन को नियंत्रित कर सकता है, लेकिन इसके लिए पहले से लोगों को बताना होगा.
  • 65 साल से ज्यादा के लोग, गर्भवती महिलाएं, पहले से बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति, 10 साल से छोटे बच्चों को घर में रहने की सलाह. सिर्फ जरूरी कार्य और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए ही बाहर निकलें.

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी

  • पहले की तरह मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा. भीड़ लगाना मना होगा. शादियों के लिए ज्यादा से ज्यादा 50 लोग इकट्ठे हो पाएंगे. अंतिम संस्कार के लिए 20 से ज्यादा लोग इकट्ठे न हों.
  • सार्वजनिक जगहों पर थूकने पर प्रतिबंध जारी रहेगा. सार्वजनिक जगहों पर पान, गुटखा, शराब का सेवन प्रतिबंधित रहेगा.

वर्क फॉर होम को बढ़ावा

  • जहां तक हो सके लोग घर से ही काम करें. वर्क फॉर होम को बढ़ावा. कार्यस्थलों पर स्क्रीनिंग और हायजीन की पूरी व्यवस्था हो. सैनेटाइजेशन किया जाए.

केंद्र सरकार करेगी साप्ताहिक समीक्षा


केंद्र सरकार इस मामले में सभी चरणों के दौरान साप्ताहिक समीक्षा करेगी और इस साप्ताहिक समीक्षा के दौरान स्थिति गंभीर पाए जाने पर दी गई सुविधाओं को वापस भी लिया जा सकता है. ध्यान रहे कि केंद्र सरकार ने 24 मार्च, 2020 से ही पूरे देश में सख्त लॉकडाउन लागू किया था. आवश्यक गतिविधियों या कार्यों को छोड़ सभी गतिविधियों को प्रतिबंधित कर दिया गया था. इसके बाद कोविड-19 के फैलाव को रोकने के व्‍यापक उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन से जुड़े उपायों में क्रमबद्ध ढंग से ढील दी गई है.

अन्य राष्ट्रीय लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack