आपसे इन बड़ी बातों को छुपाती हैं Credit Card कंपनियां

जनता जनार्दन संवाददाता , May 06, 2020, 18:17 pm IST
Keywords: Credit Cards   ATM   Bank ATM   न्यूनतम भुगतान     
फ़ॉन्ट साइज :
आपसे इन बड़ी बातों को छुपाती हैं Credit Card कंपनियां

दिल्ली: क्रेडिट कार्ड रखने का शौक हर किसी को होता है. आए दिन कंपनियां लोगों को क्रेडिट कार्ड देने के लिए फोन भी करती रहती हैं. यही नहीं क्रेडिट लिमिट बढ़ाने को लेकर भी कंपनियां अक्सर ग्राहकों को फोन करती हैं. फोन पर आपको क्रेडिट कार्ड के फायदे गिनवाए जाते हैं. इसके अलावा कार्ड पर आपको कई ऑफर्स भी देने की बात कही जाती है. लेकिन इन सब के बीच ये क्रेडिट कार्ड कंपनियां आपसे कई बातें छुपाती भी हैं, जिन्हें जानना आपके लिए बेहद ज़रूरी होता है. ऐसे में हम आपको उन बातों के बारे में बता रहे हैं, जिनका ध्यान आप क्रेडिट कार्ड लेने से पहले ज़रूर रखें.


कैश निकालना महंगा
कई लोग क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कैश निकालने के लिए करते हैं. लेकिन आपको इससे बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपको ज्यादा ब्याज़ देना पड़ सकता है. कैश निकालने के बाद अगर जमा करने में आप देर करेंगे तो आपको ब्याज़ के साथ साथ जुर्माना भी भरना पड़ेगा.


न्यूनतम भुगतान से बचें
कई लोग क्रेडिट कार्ड से ली गई चीज़ों के लिए हर महीने न्यूनतम भुगतान करते हैं, लेकिन ऐसा करने के लिए उन्हें बकाए राशि पर ब्याज़ देना होता है. इसके अलावा अगर आप भुगतान करने में चूक जाते हैं तो आपको ब्याज़ के साथ जुर्माना भी देना पड़ता है. यही नहीं क्रेडिट कार्ड रखन और उसके इस्तेमाल के लिए भी आपको शु्ल्क देना पड़ता है.


क्रेडिट एक्टिविटी पर नज़र
क्रेडिट कार्ड मुहैया कराने वाला बैंक कार्ड से जुड़ी आपकी तमाम एक्टिविटी पर नज़र रखता है. ये कार्ड कैसे और कितना इस्तेमाल हो रहा है इसकी समीक्षा भी करता है. बैंक ये समीक्षा हर 6 से 12 महीने में एक बार करता है. यदि आपने क्रेडिट कार्ड भुगतान में देरी की है या कोई नकारात्मक बदलाव किया है तो बैंक आपकी इन एक्टिविटी पर नज़र रखता है और कुछ गड़बड़ी होने पर बैंक ब्याज़ दर भी बढ़ा सकता है.


लोन
क्रेडिट कार्ड जितनी सहूलियतें देता है, उतना ही आपकी जेब पर भी भारी पड़ सकता है. कार्ड का ये फायदा है कि आप जब चाहें किसी तरह की भी खरीदारी कर सकते हैं. लेकिन इसके लिए आपको लोन की राशी जमा करनी होती है. लेकिन इसमें ये ऑप्शन भी है कि आप अपनी खरीदारी का ईएमआई बनवा लें और हर महीने पैसे कटवाते रहें.

वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack