Saturday, 08 August 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

लॉकडाउन में घर से कोई बाहर न निकले, इसलिए प्रधान ने पूरे गांव में लगवा दिया CCTV कैमरा

जनता जनार्दन संवाददाता , Apr 16, 2020, 19:29 pm IST
Keywords: देशभर में लॉकडाउन    Lock Down India   Stay Home   India Lock Down Lock Down   Pm Modi   जान है तो जहान है   पीएम मोदी   Open Shops   Meets Shop Open  
फ़ॉन्ट साइज :
लॉकडाउन में घर से कोई बाहर न निकले, इसलिए प्रधान ने पूरे गांव में लगवा दिया CCTV कैमरा

लखनऊ: देशभर में लॉकडाउन के दौरान जगह जगह से लोगों के बेवजह घरों से बाहर घूमने की तस्वीरें सामने आ रही हैं. प्रशासन लगातार कोशिशें कर रहा है कि गश्त कर लोगों पर नज़र रखी जाए. कई जगहों पर ड्रोन कैमरे भी उड़ाए जा रहे हैं. इन सबके बीच लखनऊ में एक ऐसा गांव है, जहां गांव भर में सीसीटीवी कैमरा लगाकर ख़ुद ग्राम प्रधान ग्रामीणों पर नज़र रख रहे हैं. गांव में जो भी घरों से बेवजह निकलता है, उसके नाम की घोषणा स्पीकर से की जाती है और उससे अपील की जाती है कि वो वापस अपने घर चला जाये.


ये वाकया लखनऊ के मोहनलालगंज तहसील के लालपुर गांव का है. लालपुर 250 परिवारों और 1257 लोगों की आबादी वाला गांव है. इस गांव के प्रधान ज्ञानेंद्र सिंह ने कोरोना संक्रमण के बढ़ने की ख़बरों को सुनकर ग्रामीणों से घरों में रहने की अपील की. ग्राम प्रधान की अपील का असर ना होता देख उन्होंने गांव के 10 प्रमुख जगहों को चुनकर वहां सीसीटीवी कैमरा लगवा दिया.


इन कैमरों का कंट्रोल रूम गांव का पंचायत घर बना दिया गया. इस पंचायत घर के ऊपर और गांव में एक दो जगह स्पीकर लगा दिए गए. अब एक शख्स कंट्रोल रूम में बैठकर कैमरों की निगरानी करता है. जैसे ही कोई घरों से बाहर निकलकर घूमता हुआ दिखाई देता है, पहले उसके नाम की घोषणा कर उसे घर के अंदर जाने को कहा जाता है. ज़रूरत पड़ने पर एक आदमी उसके पास जाकर घर के अंदर रहने की अपील करता है. अगर इसके बाद भी कोई न मानें तो उसके ख़िलाफ़ पुलिस को शिकायत दी जाती है.


लालपुर गांव में की गई इस पहल का कितना असर हुआ, इसकी पड़ताल के लिए हमने गांव के कुछ लोगों से बात की. ग्रामीणों का कहना है कि पहले कोरोना समझ नहीं आता था इसलिए वो घरों से निकल जाते थे. लेकिन जबसे ग्राम प्रधान ने कैमरा लगाकर अनाउंसमेंट कराना शुरू किया और एफआईआर की चेतावनी दी, लोगों में डर बैठना शुरू हो गया. अब हालात यह हैं कि लोग बेवजह घर से नहीं निकल रहे हैं.


ग्रामीणों का कहना है कि पहले ज़्यादातर कम उम्र के लड़के सैर सपाटे के लिए घरों से निकलते थे लेकिन कैमरा लगने के बाद पुलिस के डर से अब वो भी निकलने में डरते हैं. ऐसे में लालपुर के ग्राम प्रधान ज्ञानेंद्र सिंह ने कोरोना की वजह से लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने के लिए डिजिटल इंडिया अभियान की मदद से एक ऐसा काम किया, जिससे गांव को भविष्य में सुरक्षा की दृष्टि से सीसीटीवी की सुविधा भी मिल गई और लॉकडाउन में घरों में रहने में मदद भी मिल गई.

अन्य राष्ट्रीय लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack