मौसम विभाग: गर्म कपड़े उठा कर रख दिए हैं तो निकाल लीजिए, बढ़ने वाली है ठंड

जनता जनार्दन संवाददाता , Jan 05, 2020, 13:24 pm IST
Keywords: Weather UPDATES   Weather UPDATES India   Weather UPDATES UttarPradesh   Weather UPDATES Delhi   Prayagraj   Lucknow   Cold   Cold wave   उत्तर भारत में ठंड का कहर  
फ़ॉन्ट साइज :
मौसम विभाग: गर्म कपड़े उठा कर रख दिए हैं तो निकाल लीजिए, बढ़ने वाली है ठंड

दिल्ली: क्या पिछले एक दो दिन में धूप देख कर आपने अपने गर्म कपड़े उठा कर अलमारी में रख दिए हैं? तो बाहर निकाल लीजिए क्योंकि मौसम विभाग ने कहा है कि बारिश होने वाली है जिसके बाद ठंड थोड़ा बढ़ जाएगी. माना जा रहा है कि वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण बारिश आने वाली है. पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी के कारण मौसम में ठंड बढ़ेगी और जनवरी भी दिसंबर की तरफ काफी ठंडा रहेगा.

दिल्ली में इन दिनों ठंड थोड़ा कम हुई है और गुनगुनी धूप देख कर लोग सोच रहे हैं कि शायद भयंकर ठंड के दिन चले गए. पिछले एक-दो दिन काफी धूप रही जिसने लोगों को काफी राहत दी. जहां अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस से थोड़ा अधिक रहा वहीं नून्यतम तापमान करीब 8 डिग्री सेल्सियस रहा. शनिवार को 12 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा भी रही.

अब मौसम विभाग ने कहा है कि दिल्ली और आस पास के इलाकों में 7 व 8 जनवरी को बारिश हो सकती है. इसके कारण कोहरा काफी बढ़ जाएगा और साथ ही ठंड में भी काफी इजाफा हो जाएगा. दरअसल 6 जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ पैदा होगा जो दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के मौसम को बदल देगा. इसी पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ों में बर्फ गिर सकती है और मैदानों में ठंड काफी बढ़ सकती है.

तो यानि अगर आपने सोचा था कि ठंड अब कम हो जाएगी तो ऐसा नहीं है बल्कि ठंड तो उल्टे बढ़ सकती है. हालांकि देखना ये होगा कि बढ़ी हुई ठंड कितने दिनों तक दिल्ली और उत्तर भारत को ठिठुराएगी. आपको बता दें कि कोहरे के कारण पिछले दिनों काफी हादसों की भी खबरें सामने आई थीं और ठंड के कारण जनजीवन काफी प्रभावित रहा था.

 

हालांकि भारत के तटीय इलाकों में ठंड का प्रकोप उतना नहीं रहता है लेकिन उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ती है. पहाड़ों के अलावा दिल्ली और पूरे यूपी में काफी अधिक ठंड रहती है. माना जाता है कि गंगा यमुना का दोआब क्षेत्र होने के कारण भी यहां ठंड अधिक रहती है.


























अन्य प्रकृति लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack