झारखंड में बीजेपी को झटका, किसी पार्टी को बहुमत नहीं, कांग्रेस गठबंधन को फायदा

जनता जनार्दन संवाददाता , Dec 21, 2019, 11:45 am IST
Keywords: Jharkhand Assembley   Jharkhand Election 2019   BJP Lost   BJP Lost In Jharkhand   BJP Lost Assembly Election   झारखंड में विधानसभा  
फ़ॉन्ट साइज :
झारखंड में बीजेपी को झटका, किसी पार्टी को बहुमत नहीं, कांग्रेस गठबंधन को फायदा

झारखंड से बीजेपी को परेशान करने वाली खबर आई है. राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में किसी पार्टी को बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है.सी-वोटर के सर्वे में ये बात सामने आई है. सी-वोटर के साथ मिलकर राज्य में एग्जिट पोल कराया है. गौरतलब है कि राज्य में कुल 81 विधानसभा सीटों पर पांच चरणों में चुनाव हुए थे. राज्य में सरकार बनाने के लिए बहुमत का आंकड़ा 41 है.

किस पार्टी को कितनी सीटें?

बीजेपी-32
कांग्रेस+- 35
जेवीएम- 03

AJSU- 05
अन्य- 06


बीजेपी राज्य में अकेले चुनाव लड़ रही है. सर्वे में वह 32 सीटों पर चुनाव जीत सकती है. वहीं कांग्रेस को 10 तो उसकी सहयोगी पार्टी जेएमएम को 23 सीटें मिल सकती हैं. इसके अलावा सहयोगी पार्टी आरजेडी के खाते में दो सीटें जा सकती है. राज्य में कांग्रेस, जेएमएम और आरजेडी ने मिलकर चुनाव लड़ा है.


2014 में किसने जीती थीं कितनी सीटें?


2014 के झारखंड विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 37 सीट जीतकर ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन (AJSU) के साथ सरकार बनाई थी. AJSU ने पांच सीटों पर जीत दर्ज की थी. वहीं चुनाव के बाद झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) के जीते हुए आठ में से छह विधायकों ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने में सहयोग किया था. वहीं झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) 19, कांग्रेस 6 और अन्य 6 सीटें जीतने में कामयाब रहे थे.

2014 के मुकाबले  बीजेपी को पांच सीटों का नुकसान हो रहा है. वहीं जेवीएम को पांच सीटों का नुकसान हो रहा है, पिछले विधानसभा चुनाव में उसने आठ सीटें जीती थीं. AJSU ने पिछली बार भी पांच सीटें जीती थीं और इस बार भी उसके खाते में पांच सीटें जा सकती हैं. पिछली बार छह सीटें जीतने वाली कांग्रेस को इस बार 10 सीटें मिल रही हैं. यानी उसे चार सीटों का फायदा हो रहा है. जेएमएम को चार सीटों का फायदा हो रहा है.

किस पार्टी को कितना वोट शेयर?

बीजेपी-37%
कांग्रेस+- 34%
जेवीएम- 08%
AJSU- 07%
अन्य- 14%

कैसे हुआ ये सर्वे?

इस सर्वे के लिए झारखंड विधानसभा की सभी 81 सीटों पर एग्जिट पोल कराया गया है और इसके तहत 405 पोलिंग बूथों को कवर किया गया. इस सर्वे के लिए कुल 36,814 (करीब 37,000) लोगों से बात की गई और मतदान की सभी तारीखों पर ये सर्वे कराया गया है.

अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack