Wednesday, 13 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

सोच के साथ यदि अच्छा काम किया जाये तो उसका परिणाम भी अच्छा होता है: योगी आदित्यनाथ

सोच के साथ यदि अच्छा काम किया जाये तो उसका परिणाम भी अच्छा होता है: योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि राज्य सरकार बिना भेदभाव सभी के विकास के लिए प्रतिबद्ध है और अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को खुशहाल बनाकर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए लगाताक काम कर रही है. मुख्यमंत्री ने दीपावली के मौके पर गोरखपुर जिले की ग्राम पंचायत तिकोनिया नम्बर-3 में वनटांगिया ग्राम के विकास के लिए लगभग एक करोड़ 32 लाख रुपये की कुल सात परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया.

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि इनमें एक परियोजना का शिलान्यास तथा छह परियोजाओं का लोकार्पण शामिल है. इसके अतिरिक्त, उन्होंने मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अन्तर्गत 10 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किये.

सभी को दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर जिले की चयनित पांच वनटांगिया बस्तियों को राजस्व ग्राम का दर्जा दिया गया है. मुख्यमंत्री आवास योजनान्तर्गत इन सभी गांवों में कुल 791 आवास निर्माण कराने का लक्ष्य निर्धारित है, जिसके तहत 694 आवास का निर्माण पूर्ण हो चुका है तथा 97 निर्माणाधीन है.

उन्होंने बताया कि दो साल पूर्व इन गावों में पक्का मकान, शौचालय, पेंशन, मालिकाना हक, हैण्डपम्प, सड़क, बिजली आदि की सुविधा नहीं थी. प्रदेश सरकार ने इन गावों में विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध करा दी हैं. इन ग्रामों के बच्चों को शिक्षा का लाभ मिल रहा है और उन्हें निःशुल्क वर्दी, बैग, स्वेटर आदि भी उपलब्ध हो रहा है.


मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छी सोच के साथ यदि अच्छा काम किया जाये तो उसका परिणाम भी अच्छा होता है. अयोध्या में शनिवार को ‘दीपोत्सव’ का भव्य आयोजन सम्पन्न हुआ. हम सभी को दीपावली का पर्व अंधकार से प्रकाश की ओर, अन्याय से न्याय की ओर और बुराई से अच्छाई की ओर ले जाने का संदेश देता है. यह पर्व हर्ष एवं उल्लास के साथ मनाया जाता है. पर्व और त्योहार सामूहिकता के प्रतीक हैं.


उन्होंने बताया कि प्रदेश की वनटांगिया समुदाय की 38 बस्तियों को राजस्व ग्राम का दर्जा देकर उन्हें शासकीय सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं. योगी ने कहा कि राज्य सरकार बिना भेद-भाव सभी के विकास के लिए प्रतिबद्ध है. अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को खुशहाल बनाकर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए प्रदेश सरकार निरन्तर कार्य कर रही है.


उन्होंने कहा कि बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के साथ ही ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ के माध्यम से बेटा-बेटी में भेदभाव समाप्त करने की दिशा में अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं. इसी कड़ी में अभी 25 अक्टूबर को ‘मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना’ की शुरुआत की गयी है. उन्होंने मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत निर्मित आवासों का फीता काटकर संबंधित का गृह प्रवेश भी कराया.

अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack