Monday, 16 December 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

कमलेश तिवारी के परिजनों को 15 लाख मुआवजा और घर देगी सरकार

जनता जनार्दन संवाददाता , Oct 23, 2019, 19:13 pm IST
Keywords: Kamlesh Tiwari   UP Government   ATS Gujrat   कमलेश तिवारी   हिंदू समाज पार्टी   
फ़ॉन्ट साइज :
कमलेश तिवारी के परिजनों को 15 लाख मुआवजा और घर देगी सरकार

लखनऊ: हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के नेता कमलेश तिवारी के परिजनों को यूपी सरकार ने मुआवजा देने का फैसला किया है. इसके तहत सरकार कमलेश तिवारी के परिवार को पंद्रह लाख मुआवज़ा और सीतापुर में एक मकान देगी. इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमलेश तिवारी की हत्या के मामले में गिरफ्तार आरोपियों का मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की आदेश दिया है.

पांच दिन बाद पुलिस की गिरफ्त में आए हत्या के आरोपी
बता दें कि पांच दिनों से यूपी पुलिस के पसीने छुड़ाने वाले दोनों आरोपियों अशफाक और मोइनुद्दीन को कल गुजरात एटीएस ने गिरफ्तार किया था. दोनों आरोपियों को कोर्ट ने तीन दिनों की यूपी पुलिस की हिरासत में भेज दिया है. पुलिस इन आरोपियों से पूछताछ कर कमलेश तिवारी हत्याकांड से जुड़े और लोगों का पता लगाएगी.

इस तरह से पुलिस ने बिछाया जाल
बताया जा रहा है कि शुरुआती पूछताछ में दोनों ने विवादित बयान का बदला लेने के लिए हत्या की बात कबूल की है. पुलिस के मुताबिक कमलेश के कातिल अशफाक और मोइनुद्दीन के पास पैसे खत्म हो गए थे. जिसके बाद इन्होंने परिवार और कुछ जानने वाले लोगों से संपर्क किया, जिसके बाद गुजरात एटीएस का काम आसान हो गया.

 

पोर्टमार्टम रिपोर्ट से हुआ बड़ा खुलासा
कमलेश तिवारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि अशफाक और मोइनुद्दीन ने 5 बार चाकुओं से वार किया और एक गोली भी मारी. तिवारी के सिर में 32 बोर की गोली भी फंसी मिली. शरीर पर गला रेतने के दो गहरे जख्म और पीठ पर भी चाकुओं के निशान मिले. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक सीने, जबड़े पर चाकुओं से वार के बाद गला रेता गया. तिवारी के चेहरे पर एक गोली भी मारी गई.

परिवार की अपील, आरोपियों को मिले फांसी
कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी और बेटे सत्यम तिवारी ने कहा कि उन्हें अब हत्यारों की फांसी चाहिए और आगे परिवार को वाई श्रेय की सुरक्षा चाहिए. कुसुम तिवारी ने कहा कि वो प्रशासन से संतुष्ट हैं लेकिन पूरी तरह तब होंगी जब हत्यारों को फांसी होगी. उन्होंने कहा कि वो चाहती हैं कि हत्यारों की उनके परिजनों से शिनाख़्त कराई जाए या फिर टीवी पर ही उनका चेहरा दिखाया जाए ताक़ि उन्हें तसल्ली हो सके कि पकड़े गए लोग वही हैं, जो हत्या करने आये थे. बेटे सत्यम ने आरोप लगाया कि उनकी हिन्दू समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं को धमकियां मिल रही हैं, ऐसे में सरकार उनकी पार्टी के अध्यक्ष यानी कमलेश की पत्नी किरण तिवारी को वाई श्रेणी की सुरक्षा दे.

 
 
अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack