Wednesday, 13 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

रविशंकर प्रसाद ने फिल्मों की कमाई से मंदी को खारिज करने वाला बयान वापस लिया

जनता जनार्दन संवाददाता , Oct 13, 2019, 18:03 pm IST
Keywords: Central ravishankar   NoteBandi   सरकारी संस्था NSSO   नोटबंदी   केंद्रीय मंत्री रविशंकर  
फ़ॉन्ट साइज :
रविशंकर प्रसाद ने फिल्मों की कमाई से मंदी को खारिज करने वाला बयान वापस लिया दिल्ली: केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने कल फिल्मों की कमाई का उदाहरण देकर आर्थिक सुस्ती को नकारा था, इस पर खूब बवाल हुआ तो आज उन्होंने अपना बयान वापस ले लिया है. उन्होंने आज कहा कि मेरे बयान के एक हिस्से को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया. मैं एक संवेदनशील व्यक्ति हूं, मैं अपना बयान वापस लेता हूं. रविशंकर प्रसाद के बयान को लेकर कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला था. सोशल मीडिया पर भी प्रसाद के बयान की खूब खिल्ली उड़ाई गई.

अपने बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा, ''मैंने कल मुंबई में बयान दिया था कि 3 फिल्मों ने एक दिन में 120 करोड़ का कारोबार किया, ये आंकड़ों के लिहाज से बिल्कुल सही बयान था. मैंने इस बयान में पूरा ब्यौरा दिया था कि कैसे इकॉनमी को मजबूत करने के लिए सरकार ने लोगों के हित में कई कदम उठाए हैं. सोशल मीडिया पर प्रेस कॉन्फ्रेंस का पूरा वीडिया उपलब्ध है. लेकिन मुझे दुख है कि मेरे बयान के एक हिस्से को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया. मैं एक संवेदनशील व्यक्ति हूं, मैं अपना बयान वापस लेता हूं.''

आर्थिक सुस्ती को नकारते हुए कल रविशंकर प्रसाद ने मुंबई में कहा था, ''मैं अटल जी की सरकार में सूचना प्रसारण मंत्री था इसलिए फिल्मों से थोड़ा लगाव है मेरा. फिल्मों की बड़ी कमाई. 2 अक्टूबर को तीन फिल्म रिलीज हुई. कोमल नाहटा हैं, बहुत बड़े फिल्म ट्रेड के एक्सपर्ट हैं. उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर की राष्ट्रीय छुट्टी के दिन तीन फिल्मों ने 120 करोड़ की कमाई की. वॉर, जोकर और सई रा ने कमाई की. अब जब देश की अर्थव्यवस्था अच्छी है तभी तो एक दिन में 120 करोड़ रुपया रिटर्न आता है.''

रविशंकर प्रसाद के इस बयान पर कांग्रेस ने जमकर निशाना साधा, प्रियंका गांधी ने उन्हें फिल्मी दुनिया से बाहर आने को कहा तो कपिल सिब्बल ने कहा वो गरीबों का मजाक उड़ा रहे हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, ''ये दुख की बात है कि जब देश में लाखों लोग नौकरियां खो रहे हैं, उनके पैसे पर बैंक कुंडली मारकर बैठे हैं. सरकार को जनता के दुख की फिक्र नहीं है. उन्हें फिल्मों के मुनाफे की परवाह है. मंत्री जी फिल्मी दुनिया से बाहर निकलिये. हकीकत से मुंह मत चुराइये.'' कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने भी रविशंकर प्रसाद को आड़े हाथों लिया.
अन्य फिल्म लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack