सुषमा स्वराज के निधन से शोक की लहर

जनता जनार्दन संवाददाता , Aug 07, 2019, 11:34 am IST
Keywords: Sushma Swaraj demise   Sheila Dikshit Passed Away   Narendra Modi Sad   सुषमा स्वराज का निधन  
फ़ॉन्ट साइज :
सुषमा स्वराज के निधन से शोक की लहर

दिल्ली: राजनीति की दिग्गज नेता और पूर्व विदेश मंत्री का निधन हो गया है. आज शाम सीने में दर्द की शिकायत के बाद उन्हें दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती कराया गया था. उनके निधन की खबर सुनते ही हर तरफ शोक की लहर दौड़ गई है. बीजेपी से लेकर तमाम राजनीतिक पार्टियों के नेता उनके निधन पर अपना दुख जता रहे हैं.

आपको बताते हैं कि सुषमा स्वराज के निधन की खबर सुनने के बाद तमाम दिग्गज नेता उन्हें कैसे याद कर रहे हैं -

अमित शाह ने कहा- पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता व संसदीय बोर्ड की सदस्य श्रीमती सुषमा स्वराज जी के आकस्मिक निधन से मन अत्यंत दुखी है. उन्होंने एक प्रखर वक्ता, एक आदर्श कार्यकर्ता, लोकप्रिय जनप्रतिनिधि व एक कर्मठ मंत्री जैसे विभिन्न रूपों में भारतीय राजनीति में अपनी अमिट छाप छोड़ी है. सात बार लोक सभा सदस्य और तीन बार विधानसभा सदस्य रहीं सुषमा जी ने दिल्ली की मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्रिमंडल में विभिन्न दायित्व निभाये. लोक सभा में विपक्ष की नेता के रूप में सुषमा स्वराज जी भाजपा की मुखर आवाज बनी. उनके रूप में हमने एक विरले, सरल व सादगीपूर्ण नेता खोया है. सुषमा स्वराज जी का निधन भाजपा और भारतीय राजनीति के लिए एक अपूरणीय क्षति है. मैं समस्त भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से उनके परिजनों, समर्थकों व शुभचिंतकों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूँ. ईश्वर दिवंगत आत्मा को चिर शान्ति प्रदान करे.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा- पूर्व विदेश मंत्री, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री, प्रखर वक्ता, सदाशयी सांसद और अपने प्रभाव से जन-जन को जीतनेवाली, सुषमा स्वराज जी के असामयिक निधन से स्तब्ध हूँ. ईश्वर उनको अपने लोक में सर्वोच्च आसन दें और उनके परिजनों को दुख सहने की शक्ति दें। ॐ शांति

बीजेपी नेता शहनवाज हुसैन ने लिखा- बहुत भारी मन से लिखना पड़ रहा है.. हम सबकी दीदी श्रीमती सुषमा स्वराज जी अब हम सबके बीच नहीं रहीं. आप बहुत याद आएंगी दीदी.

राहुल गांधी ने भी ट्विटर पर दुख जताया.


नितिन गडकरी ने लिखा- सुषमा स्वराज जी के दुखद निधन से मुझे गहरा आघात लगा है. उन्होंने हमेशा मुझे बड़ी बहन का स्नेह दिया और संगठनात्मक सलाह देकर राजनीतिक अभिभावक का फ़र्ज़ निभाया. भारतीय राजनीति में मज़बूत विपक्षी और पूर्व विदेश मंत्री के तौर पर उनकी भूमिका को सदैव स्मरण किया जाएगा. उनके निधन से देश की, पार्टी की और व्यक्तिगत मेरी अपूर्तीय क्षति हुई है. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे. ॐ शांति.

राजेडी नेता राबड़ी देवी ने ट्विटर पर लिखा- देश की लोकप्रिय, संवेदनशील, ओजस्वी वक़्ता, ऊर्जावान एवं विद्वान नेत्री श्रीमती सुषमा स्वराज जी के निधन से स्तब्ध और दुःखी हूँ. भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें.

जयंत सिन्हा ने लिखा- गला रुंधा हुआ है निशब्द हूँ. आदरणीय सुषमा जी का जाना राष्ट्रीय क्षति है. फिलहाल इससे अधिक कुछ भी कहने में असमर्थ हूँ. ईश्वर आपको अपनी शरण में लें और परिजनों व शुभचिंतकों को संबल प्रदान करें.ॐ शांति!

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लिखा- श्रीमती सुषमा स्वराज के निधन से बहुत दुःख हुआ है. देश ने अपनी एक अत्यंत प्रिय बेटी खोई है. सुषमा जी सार्वजनिक जीवन में गरिमा, साहस और निष्ठा की प्रतिमूर्ति थीं. लोगों की सहायता के लिए वे हमेशा तत्पर रहती थीं. उनकी सेवाओं के लिए सभी भारतीय उन्हें सदैव याद रखेंगे.

पीएम मोदी ने सुषमा स्वराज के निधन पर शोक जाहिर करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वो लोगों के लिए प्रेरणा थीं. उन्होंने अपना जीवन लोगों की सेवा के लिए समर्पित कर दिया. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ''भारतीय राजनीति में एक शानदार अध्याय समाप्त होता है. भारत एक उल्लेखनीय नेता के निधन पर शोक व्यक्त करता है, जिन्होंने अपना जीवन सार्वजनिक सेवा और गरीबों के जीवन को समर्पित किया. सुषमा स्वराज जी करोड़ों लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत थीं.''

अन्य खास लोग लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack