Thursday, 21 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

तो! जिलाधिकारी चन्दौली बनेंगे अध्यापक, बच्चों के पढ़ाई के साथ सेहद पर रखेंगे नज़र

तो! जिलाधिकारी चन्दौली बनेंगे अध्यापक, बच्चों के पढ़ाई के साथ सेहद पर रखेंगे नज़र
चन्दौली: जनपद चन्दौली के सर्वांगीण विकास के लिए जनसहभागिता के आधार पर कुपोषण से मुक्त और शिक्षा के स्तर को सुदृढ़ करने के सम्बन्ध में ’शिक्षित एवं सुपोषित चन्दौलीः एक अभिनव पहल’ नाम से आनलाइन एप का शुभारम्भ एनआईसी सभागार में किया गया। जिलाधिकारी ने जनमानस से अपील करते हुए जनपद में स्वास्थ्य, बच्चों के सुपोषण एवं उनकी शिक्षा में व्यापक सुधार लाये जाने के उद्देश्य से इसमें पुरजोर ढंग से अपनी सहभागिता के लिए कहा. 

बताया कि कोई भी इच्छुक व्यक्ति, स्वयंसेवी संस्थाएं, इंजीनियर, डाक्टर, व्यापारी, अधिकारी, कर्मचारी स्वेच्छया इस संबंध में अपनी सेवाएं देना चाहता है तो इस एप के माध्यम से कोई कुपोषित बच्चा व प्राथमिक स्कूल, उच्च प्रा0 विद्यालय या इण्टर कालेज का चुनाव कर अध्यापन का कार्य कर सकता है। यह एक पुनीत कार्य है। रिटायर्ड अध्यापक, अधिकारी भी स्वेच्छया अपनी सेवाएं दे सकते है जिनके अनुभव का लाभ बच्चों को मिलेगा। इस अवसर पर जिलाधिकारी चहल ने स्वयं पहल करते हुए प्राथमिक विद्यालय बिछियां खुर्द के बच्चों को पढ़ाने का बीड़ा उठाया. 

मुख्य विकास अधिकारी ए0के0 श्रीवास्तव ने प्रा0वि0चन्दौली खुर्द के बच्चों को समय-समय पर पढ़ाने की जिम्मेदारी ली। कार्यक्रम अधिकारी ने ग्राम बगहीं, वि0ख0 नियामताबाद की सान्हवी नाम की बच्ची को सुपोषित करने का जिम्मा लिया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने गोद लेने वाले इच्छुक व्यक्तियों से बच्चों के सुपोषण के साथ ही उनके नियमित टीकाकरण,खाने-पीने के साथ-साथ स्वास्थ्य व बाल विकास विभाग से सम्पर्क में रहते हुए बच्चों के समुचित स्वास्थ्यवर्धन की अपील की। 
 
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी व पत्रकार बन्धु उपस्थित रहे।
अन्य गांव-गिरांव लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack