Thursday, 17 October 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

बजट 2019: मिडिल क्लास का हाथ खाली, गरीबों की उम्मीदें बढ़ाने वाला बजट

जनता जनार्दन संवाददाता , Jul 05, 2019, 20:50 pm IST
Keywords: BUDGET 2019   Budget   Union Budget   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण   संसद में बजट   टैक्स  
फ़ॉन्ट साइज :
बजट 2019: मिडिल क्लास का हाथ खाली, गरीबों की उम्मीदें बढ़ाने वाला बजट

दिल्लीः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में बजट पेश कर दिया है और इसको लेकर तमाम तरह की प्रतिक्रिया आ रही हैं. आम लोगों की बजट से ढेरों उम्मीदें थीं और ऐसे में आम जनता जानना चाहती है कि बजट के बाद उनकी जेब पर क्या असर पड़ रहा है. यहां पर आप इसके बारे में जान सकते हैं.

आपकी जेब पर क्या असर पड़ेगा

टैक्स
इनकम टैक्स में कोई बदलाव नहीं किया गया है. यानि अगर आपकी आमदनी पांच लाख रुपये तक है तो आपको कोई टैक्स नहीं देना होगा. टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया है और ये पहले की तरह हैं. 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक की आमदनी वालों को 20 फीसदी की दर से टैक्स पहले की तरह देना होगा. आमदनी पांच लाख से ऊपर होने पर 2.5 लाख से 5 लाख तक पर 5 फीसदी, 5 लाख से 10 लाख पर 20 फीसदी और 10 लाख से ऊपर की आमदनी पर 30 फीसदी टैक्स देना होगा.

बड़े अमीरों पर टैक्स का बोझ बढ़ा
बड़े अमीरों पर टैक्स का बोझ और अधिक बढ़ाया गया है. 2 करोड़ से 7 करोड़ के बीच आमदनी वाले पर अतिरिक्त टैक्स बढ़ाया गया है. 2 करोड़ से 5 करोड़ की आमदनी पर 3 फीसदी और 5 करोड़ से ऊपर आमदनी वालों को 7 फीसदी अतिरिक्त टैक्स देना होगा.

पेट्रोल-डीजल हुआ महंगा
आपकी आमदनी कुछ भी हो आपको डीजल और पेट्रोल पर ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ेंगे. पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी और सेस बढ़ाए गए. इस तरह डीजल और पेट्रोल दो-दो रुपये प्रति लीटर महंगा हो जाएगा.

सस्ते घर लेने वालों को खुशखबरी
45 लाख रुपये तक का नया घर लेने वालों के लिए खुशखबरी है. अब उन्हें लिए गए हाउसिंग लोन के ब्याज पर 3.5 लाख रुपये तक टैक्स पर छूट मिलेगी. पहले 2 लाख तक टैक्स में छूट थी.

MSME के लिए लोन लेना आसान
बजट में किए गए प्रावधानों के मुताबिक एमएसएमई के लिए लोन लेना आसान होगा. यानि आपकी जेब में कम पैसे हैं तो भी आप लघु और मध्य उद्योग धंधे कर सकते हैं. सरकार ने त्वरित लोन लेने की प्रक्रिया को और आसान बनाने की बात कही है.

छोटे और मध्य कारोबारियों को राहत
बजट में छोटे और मध्य कारोबारियों को भी राहत दी गई है. अब तक 250 करोड़ के टर्नओवर वालों को 25 फीसदी टैक्स देना पड़ता था. अब इसे बढ़ाकर 400 करोड़ कर दिया गया है. यानि 400 करोड़ रुपये तक के टर्नओवर वाली कंपनियों पर 25 फीसदी का टैक्स लगेगा.

खुदरा कारोबारियों को पेंशन
छोटे कारोबारियों और दूकानदारों को पेंशन मिलेगी यानि उनकी जेब भरी रहेगी. 1.5 करोड़ सालाना का टर्नओवर देने वाले खुदरा यानी छोटे कारोबारियों को सरकार पेंशन देगी. इसके लिए नई योजना पर काम किया जा रहा है.

इलेक्ट्रिक कार खरीदने वालों को मिली सौगात
इलेक्ट्रिक कार खरीदने वालों को इस बजट में सौगात दी गई है. उन्हें इसके लिए लोन पर 1.5 लाख रुपये तक टैक्स छूट दी जाएगी. इलेक्ट्रिक वाहनों को खरीदने के लिए जो लोन दिया जाता है उसके ब्याज पर 1.5 लाख रुपये तक की टैक्स छूट का एलान किया गया है.

इस तरह बजट के बाद सरकार की तरफ से दावा किया जा रहा है कि उन्होंने आम लोगों से लेकर हरेक वर्ग के लिए कुछ न कुछ एलान किए हैं. हाउसिंग सेक्टर के लिए किए गए एलान से लोगों के लिए घर खरीदना सस्ता होगा और 2022 तक सरकार का सबको घर देने की योजना को पूरा किया जा सकेगा.

अन्य राष्ट्रीय लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack