Tuesday, 10 December 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

लालू प्रसाद यादव से मिलने अस्पताल पहुंचे तेज प्रताप यादव

जनता जनार्दन संवाददाता , Jun 22, 2019, 21:10 pm IST
Keywords: RJD   Lalu Prasad Yadav   Rashtriy Janta Dal   Bihar News   राष्ट्रीय जनता दल   आरजेडी   तेजप्रताप यादव   लालू प्रसाद यादव  
फ़ॉन्ट साइज :
लालू प्रसाद यादव से मिलने अस्पताल पहुंचे तेज प्रताप यादव

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजप्रताप यादव शनिवार को अस्पताल में अपने बीमार पिता लालू प्रसाद से मिलने पहुंचे. लालू का न्यायिक हिरासत में इलाज चल रहा है. तेजप्रताप लालू से राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मडिकल साइंस (रिम्स) में जाकर मिले और उन्हें भगवान कृष्ण के उपदेशों वाली धार्मिक पुस्तक 'भगवद् गीता' भेंट की.

बता दें कि चुनाव परिणाम आने के बाद पहली बार तेजप्रताप यादव पिता लालू से मिलने पहुंचे हैं. लोकसभा चुनाव में आरजे़डी की बिहार में करारी हार हुई है. 40 लोकसभा सीटों में वह एक भी सीट जीतने में कामयाब नहीं हो पाई है.

लालू प्रसाद गुर्दा (किडनी) संबंधी रोगों और मधुमेह से पीड़ित हैं. चारा घोटाले से जुड़े चार मामलों में उन्हें 14 साल जेल की सजा सुनाई गई है. उन्होंने मई में सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका दायर की थी, जिसे खारिज कर दिया गया था. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के पूर्व रेलमंत्री ने अब झारखंड उच्च न्यायालय में याचिका दायर की है.

चमकी बुखार के लिए नीतीश सरकार पर साधा निशाना

शुक्रवार को पटना एयरपोर्ट पर तेज प्रताप यादव ने कहा मुजफ्फरपुर चमकी बुखार से बच्चों की हो रही मौत पर कहा कि नीतीश कुमार की सरकार पूरी तरह से नाकाम है. सरकार को इन सब चीजों को देखना चाहिए लेकिन सरकार इस मामले को पूरी फेलियर होती जा रही है.

तेजप्रताप यादव ने कहा कि चमकी बुखार को लेकर छात्र आरजेडी 23 जून को राजभवन के लिए मार्च निकालेगा. इससे पहले तेजप्रताप ने ट्वीट करते हुए सीएम नीतीश पर निशाना साधा था. उन्होंने ट्वीट किया था, ''सुशासन बाबू, माना कि ये 5-10 वर्ष के मासूम बच्चे किसी दल के वोटर नहीं हैं लेकिन क्या इन सैकड़ो मासूमों की जान आपके सुशासन की जिम्मेदारी नहीं हैं ? नीतीश बाबू हम राजनीति बाद में कर लेंगे अभी इन मासूमों की जिंदगी ज्यादा जरूरी है. कुछ भी कीजिए इन बच्चों को बचा लीजिए.''

अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख
 
stack