ममता बनर्जी करेंगी अपने कुछ मंत्रियों की छुट्टी

जनता जनार्दन संवाददाता , May 28, 2019, 18:13 pm IST
Keywords: Mamta   Bengal Politics   Mamta Didi   Cabinet Bangal   Cabinet List Bangal  
फ़ॉन्ट साइज :
ममता बनर्जी करेंगी अपने कुछ मंत्रियों की छुट्टी

पश्चिम बंगाल: लोकसभा चुनावों झटका लगने और पार्टी के कई नेताओं के बीजेपी में शामिल होने के बाद ममता बनर्जी अपनी सरकार में कई बड़े बदलाव की तैयारी में हैं. बताया जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कैबिनेट से कुछ मंत्रियों की छुट्टी कर सकती हैं. ममता बनर्जी अपने नेताओं के निर्वाचन क्षेत्र में उनके प्रदर्शन की समीक्षा करेंगी उसके बाद मंत्रियों के पोर्टफोलियो में बदलाव का फैसला करेंगी.

सूत्रों के मुताबिक ममता बनर्जी अपने कई मंत्रियों के विभाग भी बदल सकती हैं. बीजेपी का प्रदर्शन भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में भी अच्छा रहा है, जहां ममता चुनाव लड़ती हैं. बताया जा रहा है कि ममता बनर्जी रविंद्रनाथ घोष सहित उत्तर बंगाल के अपने कई नेताओं के प्रदर्शन से असंतुष्ट हैं. मलय घटक और गौतम देब सहित कुछ ऐसे नाम हैं जिन पर गाज गिर सकती है.

ममता मंत्रिमंडल में फेरबदल की खबर ऐसे समय आई है जब टीएमसी के दो विधायक और 50 से ज्यादा पार्षद मंगलवार को दिल्ली में बीजेपी में शामिल हो गए. इसमें बीजेपी नेता मुकुल राय के बेटे शुभ्रांशू राय भी शामिल हैं. लोकसभा चुनाव में प्रभावकारी प्रदर्शन के बाद बीजेपी राज्य में अपनी स्थिति और मजबूत बनाने में लगी है. शुभ्रांशू राय को आम चुनाव का परिणाम घोषित होने के बाद पार्टी विरोधी गतिविधियों को लेकर तृणमूल कांग्रेस से निलंबित कर दिया गया था.

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस लोकसभा चुनाव में बीजेपी के साथ घमासान के बावजूद 22 सीटें जीतकर अपनी इज्जत बरकरार रखी. बीजेपी को 18 और कांग्रेस को 2 सीटें मिली हैं. बीजेपी की इस जीत में मुकुल रॉय और बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा रोल है. इस चुनाव में बीजेपी के लिए जबरदस्त नतीजे पश्चिम बंगाल से आए जहां उसने ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस के पसीने छुड़ा दिए. आठ साल से सत्तारूढ़ तृणमूल को अमित शाह के नेतृत्व वाली बीजेपी ने सबसे बड़ा उलटफेर दिखाया.

अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack