चंदौली: मतदान से लेकर वोटो की गिनती तक अधिकारियों के हाथों में होगी लोकसभा चुनाव की कमान

अमिय पाण्डेय , May 09, 2019, 18:39 pm IST
Keywords: DM Inspection   Dm Chandaili Inspection   Farmers Issue Chandauli   Loksabha Election 2019   Loksabha Chandauli   एक्शन में डीएम   डीएम चंदौली  
फ़ॉन्ट साइज :
चंदौली: मतदान से लेकर वोटो की गिनती तक अधिकारियों के हाथों में होगी लोकसभा चुनाव की कमान
चन्दौली: जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी नवनीत सिंह चहल ने लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं भयमुक्त मतदान सम्पन्न कराने हेतु पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय एवं मतदान अधिकारी तृतीय को विधान सभावार 1788 अधिकारियों को द्वितीय प्रशिक्षण दिया गया। इस दौरान 12 मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय अनुपस्थित अधिकारियों मतदान अधिकारी प्रथम अतुल रत्न मिश्रा, मतदान अधिकारी द्वितीय माधुरी देवी, सफलत देवी, प्रीती कुमारी,शशीकला एवं मतदान अधिकारी तृतीय दीपक सोनकर, दीपक कुमार रावत,अजय कुमार, शनि कुमार, विक्रम कुमार सिंह, नागेन्द्र कुमार, अर्जुन राम द्वारा प्रशिक्षण में प्रतिभाग न किये जाने पर इनके विरूद्व एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश प्रभारी अधिकारी कार्मिक/मुख्य विकास अधिकारी डा0 अभय कुमार श्रीवास्तव को दिया। उन्होनें परियोजना निदेशक को निदेशर््िात करते हुये कहा कि वीयू, सीयू, वीवी पैट की बारीकियों की विस्तृत जानकारी लिखित रूप में प्रशिक्षण के दौरान सभी पीठासीन अधिकारियों को दिया जाय जिससे कि उनको किसी प्रकार की समस्या न होने पाये.
 
प्रभारी अधिकारी कार्मिक ने प्रशिक्षण के दौरान लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 को मतदान हेतु पीठासीन अधिकारी द्वारा मतदान मशीन के सम्बन्ध में की जाने वाली तैयारी एवं कार्यवाही को विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इस दौरान उन्होनें बताया कि वीवीपैट के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण जानकारी देते हुये कहा कि परिवहन के समय पेपर रोल, नाॅब लाक पोजिशन में रहेगी। जब पेपर रोल लाक पोजिशन में है तो वीवीपैट भी बन्द अवस्था में रहेगी।
 
 कहा कि बैलेट यूनिट एवं वीवीपैट वोटिंग कम्पार्टमेन्ट में रखे तथा कन्ट्रोल यूनिट को बाहर निर्धारित स्थान पर इस प्रकार रखें जिसे केबिल मतदाता की पहॅुच से दूर रहे। साथ ही मतदान दिवस की पूर्व संध्या पर, मतदान के दिन की जाने वाली कार्यवाही, माकपोल पर्चियों का सील किया जाना, ग्रीन पेपर सील से कन्ट्रोल यूनिट को सील करना, मतदान के दौरान समय-समय पर की जाने वाली कार्यवाही एवं मतदान समाप्ति पर की जाने वाली कार्यवाही को गहनतापूर्वक जानकारी दी। कहा कि माकपोल पर्चियो का सील किया जाना एवं माकपोल की प्रक्रिया में वीवीपैट के ड्राप बाक्स से सभी पर्चियों को निकालकर ड्राप बाक्स को खाली कर दें। अमिट स्याही बायें हाथ की तर्जनी के नाखून एवं जोड़ पर लगायें। 
 
मतदान स्थल के 200 मीटर की परीधि में किसी प्रत्याशी का बैनर/पोस्टर लगा रहे तो मतदान के पूर्व संध्या को ही निकलवाये ताकि मतदान को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं भयमुक्त सम्पन्न हो सके। मतदान समाप्ति पर क्लोज बटन के उपर काला रबर का कैप हटाकर क्लोज बटन दबा दिया जाये और रबर कैप पुनः लगा दें साथ टोटल बटन दबाकर कुल मतों की संख्या नोट कर लें तथा वोटर रजिस्टर के क्रम एवं मतदाता पर्ची से मिलान कर लें। 
 
प्रशिक्षण के दौरान सभी लोगों को मशीन से रूबरू किया गया ताकि मतदान स्थल पर किसी प्रकार का शंका मतदान कराने में न आये। प्रशिक्षण के दौरान जिला विकास अधिकारी पद्मकान्त शुक्ल, जिला विद्यालय निरीक्षण विनोद राय, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी भोलेन्द्र प्रताप सिंह सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थें।
अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या 2019 लोकसभा चुनाव में NDA पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ सकती है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack