Thursday, 23 January 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

अयोध्या में पीएम मोदी की रैली, नहीं जाएंगे राम जन्मभूमि और हनुमान गढ़ी

जनता जनार्दन संवाददाता , May 01, 2019, 9:23 am IST
Keywords: बीजेपी   Bjp India   Narendra Modi Visit Ayodhya   Ayodhya News   Ayodhya UttarPradesh Loksabha Poll 2019  
फ़ॉन्ट साइज :
अयोध्या में पीएम मोदी की रैली, नहीं जाएंगे राम जन्मभूमि और हनुमान गढ़ी

दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तर प्रदेश के अयोध्या में चुनावी रैली करेंगे. हालांकि पीएम मोदी इस दौरान राम जन्मभूमि और हनुमान गढ़ी नहीं जाएंगे. पीएम मोदी के रामलला के दर्शन नहीं करने को लेकर अयोध्या के प्रमुख साधु संतों का कहना है कि मोदी ने एक का संकल्प लिया है कि जबतक रामन्दिर निर्माण का रास्ता साफ नहीं होता, तबतक वह रामलला के दर्शन नहीं करेंगे.

जिसको आना है आए, न आना हो न आए- राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष

बीजेपी पर रामजन्मभूमि का राजनीतिक इस्तेमाल करने के आरोप लगते रहे हैं. अयोध्या फैज़ाबाद के सांसद लल्लू सिंह कहते हैं कि मोदी वो काम कर रहे हैं जो भगवान राम ने किया है, गरीबों को मान सम्मान दिलाया है, उनको घर-बार दिलाया है, मोदी जी राम का ही काम तो कर रहे हैं, जब दर्शन का मन होगा तो दर्शन भी कर लेंगे.

दर्शन नहीं करना पीएम मोदी का संकल्प है- पुजारी 

अयोध्या में राम जन्मभूमि पर विराजमान रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास जी महाराज का कहना है कि पीएम मोदी का संकल्प है कि जब भव्य मंदिर बनेगा तो उसकी नींव का पत्थर रखने यानी शिलापूजन करने ही वे आएंगे. राम जन्मभूमि न्यास के सदस्य रामविलास वेदांती भी यही मानते हैं कि पीएम मोदी का संकल्प है जब वो पूरा होगा तभी वे रामलाल के दर्शन करने आएंगे.

लोकसभा चुनावो में हिन्दू, हिंदुत्व के आसपास चुनाव प्रचार को घुमाने वाली बीजेपी को पीएम के रामलाल के दर्शन नहीं करने जाने पर साधु संतों का साथ मिल रहा है, जाहिर है साधु संतों को उम्मीद है कि भव्य मंदिर जब भी बनेगा बीजेपी या मोदी ही बनवाएंगे. इसीलिए वे दर्शन करने आने या न आने के मसले को तूल नहीं देना चाहते हैं.

अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack