भईया के नईया की खेवइया बनेंगी कार्यकर्ताओं की प्रिय, प्रियंका गांधी

भईया के नईया की खेवइया बनेंगी कार्यकर्ताओं की प्रिय, प्रियंका गांधी
हाल ही में तीन प्रदेश में बीजेपी को धूल चटा चुकी कांग्रेस आगामी लोकसभा चुनाव में पूरी तैयारी और दम के साथ खम ठोकेंगी। इसलिए लंबे समय से पार्टी के बड़े नेताओं की यह मांग की प्रियंका गांधी को यूपी में लगाया जाय,को स्वीकारते हुए आज पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव बनाकर यूपी का प्रभारी बना दिया। कारण एक तो प्रियंका गांधी की छवि में कोई नरात्मकता नही है दूसरी बात की कार्यकर्ता प्रियंका में इंद्रा गांधी की झलक देखते हैं।

बताया जाता है कि कार्यकर्ताओ से जल्दी घुलमिल जाने वाली प्रियंका को यूपी में प्रभारी बना कर इनके राजनीति कौशल को भी पार्टी परखेगी।


यूपी में वेंटिलेटर पर पड़ी कांग्रेस  अगर लोकसभा चुनाव में प्रियंका की देखरेख में अगर कोई करिश्मा दिखाती है तो यह आश्चर्य नही होगा कि 2022 विधानसभा चुनाव में यूपी कांग्रेस प्रियंका गांधी के चेहरे पर ही चुनाव लड़े।
यही नही कांग्रेस और प्रियंका को प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए युवा और लोकप्रिय चेहरे के तौर पर अजय राय ललितेश पति जैसे लोगों को आगे लाना चाहिए ताकि वृद्धों की पार्टी जैसे ठप्पे से कांग्रेस को निजात मिले और युवाओं को कुछ करने दिखाने का मौका।

फिलहाल प्रियंका को आगे कर राहुल गांधी ने जो मास्टरस्ट्रोक खेला है इसे राहुल की बेहतर राजनीति समझ कहि जा सकती है।अब देखना यह होगा कि आईटी सेल राहुल को पप्पू साबित करने का कोई मौका न छोड़ने वाले प्रियंका के मानमर्दन के लिए किस हद तक जाते.

# लेखक एक हिंदी साप्ताहिक अखबार के संपादक हैं, सोशल मीडिया की ये पोस्ट उनके फेसबुक वाल से लिया गया है.

अन्य सोशल मीडिया लेख
वोट दें

क्या 2019 लोकसभा चुनाव में NDA पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ सकती है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack