Tuesday, 17 September 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

15 लाख अकाउंट में आने लगे हैं', मोदी के मंत्री ने समझाया

जनता जनार्दन संवाददाता , Dec 18, 2018, 15:42 pm IST
Keywords: Narendra Modi   Congress Party   Rahul Gandhi   15 लाख अकाउंट   मोदी के मंत्री   समझाया फॉर्मूला  
फ़ॉन्ट साइज :
15 लाख अकाउंट में आने लगे हैं', मोदी के मंत्री ने समझाया

Desk JJ: रोजी, रोटी और मकान व‍िषय पर कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन स‍िंह, आप नेता और राज्यसभा सांसद संजय स‍िंह और बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने चर्चा की. जब महेश शर्मा बीजेपी सरकार की उपलब्ध‍ियों का बखान कर रहे थे तो कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह ने पूछ डाला क‍ि प्रधानमंत्री मोदी ने जो 15 लाख रुपये हर भारतीय को देने का वादा क‍िया था, वह कहां हैं?

महेश शर्मा मोदी सरकार की उपलब्ध‍ियों का बखान करते हुए बोले क‍ि आजादी के बाद से 2014 तक देश में 14 करोड़ गैस कनेक्शन द‍िए गए और हमने 2014 के बाद से 12 करोड़ कनेक्शन द‍िए गए. जो कांग्रेस ने 55 साल में क‍िया वह हमने साढ़े चार साल में क‍िया. नोटबंदी हमारी गौरवपूर्ण योजना थी ज‍िसे हमने सफलतापूर्वक अंजाम द‍िया. जीएसटी लाना हमारी योजना का ह‍िस्सा था, हम उसे लाए. वन रैंक-वन पेंशन आप सोचते रहे गए. हम लाए हैं. फसल बीमा योजना हम लाए हैं.

महेश शर्मा से जब कांग्रेस नेता आरपीएन स‍िंह ने पूछा क‍ि ये तो ठीक है लेक‍िन वह 15 लाख रुपये कहां हैं ज‍िसका प्रधानमंत्री ने लोगों के खाते में डालने का वादा क‍िया था. इस पर शर्मा ने जवाब देते हुए क‍हा क‍ि एक साल के अंदर 9 लाख 34 हजार हजार रुपये के प्रोजेक्ट साइन क‍िए. 22 लाख लोगों को रोजगार म‍िला. हरेक देशवासी को जो फायदा हो रहा है, उनको बेन‍िफ‍िट्स हो रहे हैं. ये वही 15 लाख रुपये हैं.

आरपीएन स‍िंह ने जब केंद्र सरकार की  उज्ज्वला स्कीम को न‍िशाना बनाते हुए क‍हा क‍ि गरीबों को गैस के स‍िलेंडर बांट द‍िए गए लेक‍िन अब 1000 रुपए का स‍िलेंडर खरीदने के ल‍िए गरीब के पास पैसे ही नहीं. खाली स‍िलेंडर लोगें के बैठने के काम आ रहा है.  तब महेश शर्मा ने जवाब देते हुए क‍हा क‍ि हमारे साढ़े चार साल और आपके 55 साल. आपने 55 साल में क‍िसान की वही स्थिति रखी क‍ि वह आज गैस का स‍िलेंडर भरवा नहीं पा रहा.     
अन्य राजनीति लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack