विधानसभा चुनाव नतीजा 2018: कांग्रेस के हाथ राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश, तेलंगाना में टीआरएस, मिजोरम एमएनएफ के पास

विधानसभा चुनाव नतीजा 2018: कांग्रेस के हाथ राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश, तेलंगाना में टीआरएस, मिजोरम एमएनएफ के पास नई दिल्लीः पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों और रुझानों के अनुसार कांग्रेस ने बीजेपी से राजस्थान और छत्तीसगढ़ छीन लिया है. छत्तीसगढ़ में हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. वहीं, मध्यप्रदेश में अब भी पेंच फंसा दिख रहा है. यहां बीएसपी किंगमेकर बनती दिख रही है. जबकि, तेलंगाना में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति ने बंपर वापसी की है और के. चंद्रशेखर राव दूसरी बार सरकार बनाने जा रहे हैं, वहीं मिजोरम में 10 साल से सत्ता में रही कांग्रेस से मिजो नेशनल फ्रंट ने सत्ता की कुर्सी छीन ली है.

उधर, राजस्थान में अब तक आए 199 सीटों के रुझान में कांग्रेस 100 सीट पर बढ़त के साथ बहुमत हासिल कर दिख रही है, जबकि बीजेपी 73 सीटों पर आगे चल रही है. राजस्थान में मुख्यमंत्री पद को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच खींचतान शुरू होती दिख रही है.

तेलंगाना के विधानसभा चुनाव की बात करें तो यहां सत्ताधारी तेलंगाना राष्ट्र समिति 91 सीटों पर बढ़त के साथ तो दो-तिहाई बहुमत हासिल करती दिख रही है. वहीं कांग्रेस को 119 सदस्यीय विधानसभा में महज़ 19 सीटों पर बढ़त प्राप्त है. उधर मिजोरम में मिजो नेशनल फ्रंट 26 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस को महज 5 सीट पर बढ़त है, वहीं 9 सीटें अन्य के खाते में दिख रही हैं.

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव परिणाम: मध्य प्रदेश में मुकाबला और भी दिलचस्प हो गया है. यहां कांग्रेस ने 23 सीटें जीत ली हैं और 88 पर बढ़त बनाए हुए है. जबकि बीजेपी ने 24 सीटें जीत ली हैं और 85 सीटों पर आगे चल रही है. मध्य प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने बुधवार (12 दिसंबर) को शाम 4 बजे पार्टी के नवनिर्वाचित विधायक दल की बैठक प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में बुलाई है.

राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम: हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपना इस्तीफा दे दिया है. राजे ने कहा कि जनता ने जो फैसला दिया है, वो हमें मंजूर है. हमारी सरकार ने अपने कार्यकाल में जितने भी जनहितैषी काम किए हैं. उम्मीद है कि आने वाली सरकार इन कामों को आगे बढ़ाएगी और हम विधानसभा में विपक्ष के तौर पर बैठकर नई सरकार के कामों पर नज़र रखेंगे.

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव की तस्वीर बहुत हद तक साफ हो चुकी है. ताजा रुझानों के मुताबिक, कांग्रेस ने बीजेपी से राजस्थान और छत्तीसगढ़ छीन लिया है. वहीं, मध्य प्रदेश में दोनों पार्टियों के बीच दिलचस्प मुकाबला दिख रहा है. बीजेपी शासित तीन राज्यों में सरकार बनाने जा रही कांग्रेस कोई रिस्क नहीं लेना चाहती. लिहाजा कांग्रेस ने तीनों राज्यों में पर्यवेक्षक नियुक्त किए हैं. छत्तीसगढ़ में मल्लिकार्जुन खड़गे, मध्य प्रदेश में एके एंटनी और राजस्थान में एके वेणुगोपाल को पार्टी ने पर्यवेक्षक बनाया है.  

2019 के लोकसभा चुनाव के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा, 'मेरे लिए 2014 का चुनाव सबसे अहम था. उस चुनाव से मैंने बहुत कुछ सीखा.'
अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या 2019 लोकसभा चुनाव में NDA पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ सकती है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack