Wednesday, 18 September 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

शकरकंदी के फायदे: डायबिटीज को करे कंट्रोल शुगर को रखे सही...

जनता जनार्दन संवाददाता , Oct 13, 2018, 8:43 am IST
Keywords: Benifits   Shakarkand Benifit   Helthy India   Welthy India  
फ़ॉन्ट साइज :
शकरकंदी के फायदे: डायबिटीज को करे कंट्रोल शुगर को रखे सही... दिल्ली: अगर आप डायबिटीक (diabetic) हैं, तो यकीनन आपको बहुत से लोग खाने से जुड़ी सलाह देते होंगे. और एक सलाह जो सबसे ज्यादा सुनने को मिलती है वह है आलूओं से दूरी बनाने की. डायबिटीक या मधुमेह से पीड़ित लोगों को कम आलू खाने (Potatoes: Good or Bad?) की सलाह के पीछे लोगों के अपने-अपने तर्क होते हैं. इसके पीछे कारण भी है. आलू में काफी मात्रा में ग्लाइकेमिक एसिड (high glycaemic index) होता है.

हाई ग्लाइकेमिक खाना जल्दी मेटाबोलाइज्ड होता है और शुगर लेवल (High blood sugar) को बढ़ा देता है. लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि आप अपने खाने से आलू या मीठी चीजों को हटा ही दें. शकरकंदी या शकरकंद (Sweet potatoes, shakarkandi) को आप अपने खाने में शामिल कर ब्लड शुगर (blood sugar levels) को नियंत्रित कर सकते है. 
यह मधुमेह से पीडि़त लोगों के लिए शकरकंदी के कई हैं.

डायबिटीज मेटाबॉलिक रोगों (metabolic diseases) में से एक है. जो खून में अधिक शुगर (high blood glucose) होने के चलते होती है. डायबिटीज (Diabetes) को सही आहार (proper diet) और व्यायाम (physical activity) या दवाओं (oral medications) से नियंत्रित किया जा सकता है. डायबिटीज से पीड़ित लोगों को अक्सर फाइबर से भरपूर खाना खाने की सलाह दी जाती है. और शकरकंद या शकरकंदी इसमें एकदम फिट बैठती है.

अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन के मुताबिक शकरकंदी में फाइबर और विटामिन ए, विटामिन सी और जिंक जैसे एंटीऑक्सिडेंट होते हैं. शकरकंदी (Sweet potatoes) में विटामिन बी, आयरल, पोटैशियम, मैग्नेशियम भी काफी मात्रा में पाए जाते हैं.

Healing Foods' नाम की डीके पब्लिकेशन की किताब के अनुसार शकरकंदी डायबिटीज में काफी सहायक हैं. वे आपके ब्लड शुगर को बार-बार ऊपर नीचे (fluctuate) होने से बचाती हैं. स्वीट पटेटो (Sweet potatoes) में ऐसे स्लो कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं जो ब्लड शुगर को एकदम से नहीं बढ़ाते. 

यह मिथ है कि स्टार्च फूड (starchy foods) को डायबिटीज रोगी के आहार से दूर रखना चाहिए. जबकि यह जरूरी है. यह पोर्शन कंट्रोल का काम करता है इसलिए इसे खाने में एड करना जरूरी है. क्योंकि यह पोषण से भरा आहार है इसिलए आपको इससे अच्छी कैलोरी मिलेंगी. शकरकंदी में 109 Kcal/100 ग्राम होता है और 24 ग्राम कार्ब होते हैं. यह मिठे (dessert option) का एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है.

अन्य समाज लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack