Tuesday, 11 December 2018  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

किम जोंग-उन, मून जे-इन ने पवित्र ज्वालामुखी पर हाथ मिलाए

किम जोंग-उन, मून जे-इन ने पवित्र ज्वालामुखी पर हाथ मिलाए प्योंगयांग: एक दूसरे के प्रतिद्वंद्वी रहे उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के नेताओं ने अपने सम्मेलन के आखिरी दिन गुरूवार को खूबसूरत ज्वालामुखी की चोटी पर खड़े होकर एक दूसरे से हाथ मिलाया। इस ज्वालामुखी को उत्तर कोरिया में पवित्र माना जाता है।

दोनों नेता उत्तर कोरिया-चीन की सीमा पर स्थित पहाड़ी तक गए और तस्वीरें खिंचवाई। एक दिन पहले ही दोनों देशों ने कई समझौते किए। कहा जा रहा है कि ये समझौते शांति की दिशा में अहम कदम हैं।

उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे-इन गुरूवार को अलग-अलग वायु मार्ग से पेकतु पर्वत के पास एक हवाई अड्डा पहुंचे। वहां दोनों नेताओं की मुलाकात हुयी और उसके बाद वे चोटी पर गए।

तस्वीरों में दोनों नेता मुस्कुरा रहे थे। उनके साथ उनकी पत्नियां भी मौजूद थीं। वे लोग पास में स्थित एक झील तक भी गए।

इस बीच उत्तर कोरिया विरोधी करीब 100 प्रदर्शनकारियों ने मध्य सोल में शिखर सम्मेलन के खिलाफ रैली की। उन्होंने दोनों देशों के नेताओं की बैठक का भी विरोध किया और कहा कि इस सम्मेलन से किम जोंग उन को फायदा होगा।
अन्य पूरब लेख
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack