Thursday, 20 September 2018  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

औघड़ बाबा कीनाराम के गूंज रहल जयकरिया हो भईया, अघोरी दरबार में लागल भारी भीड़

अमिय पाण्डेय , Sep 10, 2018, 8:21 am IST
Keywords: Kinaram JI   Birth Anniversery   Baba Kinaram JI   Jay Baba Kinaram   Ramgarh Baba Kinaram Ji  
फ़ॉन्ट साइज :
औघड़ बाबा कीनाराम के गूंज रहल जयकरिया हो भईया, अघोरी दरबार में लागल भारी भीड़
चंदौली: रामगढ़ में संजीवनी देने वाले कुँए पर स्नान करने व पानी पीने वालों की भीड़ लगी रही । ऐसी मान्यता है कि यहां स्नान करने वाला व इस कुएं का पानी पीने वाले रोग मुक्त हो जाते है । बाबा कीनाराम ने अपने हाथ से इस कुएं का निर्माण गोहरे से किया था । इस कुएं में प्रवेश करने के बाद बाबा कीनाराम क्रीं कुंड वाराणसी में निकले थ

बाबा कीनाराम ने समाज व लोगो की रक्षा के लिए अपना सर्वस्य त्याग दिया । भारत मे अनेक संत महापुरुष ने जन्म लेकर लोगो की रक्षा की है । ये बाबा की शृद्धा है जो लोग खिंचे चले आते है । उक्त बातें रामगढ़ स्थित बाबा कीनाराम के 419 वे जन्मोत्सव समारोह में बतौर मुख्य अतिथि जननायक चन्द्रशेखर बिश्वविद्यालय के कुलपति योगेंद्र प्रताप सिंह ने लोगो के समक्ष ब्यक्त किया ।

उन्होंने कहा कि कीनाराम परमहंस है उन्होंने समाज को एक नयी दिशा प्रदान की है । बाबा कीनाराम ने अलख ज्योति जगायी ।ब्रम्हज्ञान,चिंतन सब कीनाराम में गुण थे । अघोर परम्परा को निभाया ।धन्य है यह धरती जहाँ कीनाराम ने जन्म लिया लोग रूपवान बनते है.

सौंदर्यवान बनते है पर जरूरत है चरित्रवान बनने की जो समाज मे जगह स्थापित करे ततपश्चात प्रभु नारायण सिंह लल्ला ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान किया.इस दौरान आयोजक अजित सिंह,अशोक पांडेय,सन्त त्रिपाठी ,प्रो0 देव दत्त चौबे ,डॉ0 सूबेदार सिंह,शिशिर सोमवंशी,अपर मुख्य न्यायिक आलोक अग्निहोत्री ,जय प्रकाश पांडेय ,सूर्य नाथ सिंह ,अपर जिला जज गजीपर अजय श्रीवास्तव,राघवेंद्र नारायण सिंह , नन्दू गुप्ता आदि लोग मौजूद थे.अध्यक्षता भाजपा नेता सुरेंद्र सिंह व संचालन धनंजय सिंह व धन्यबाद ज्ञापित राजेन्द्र पांडेय ने किया ।
अन्य धर्म-अध्यात्म लेख
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack