फारूक अब्दुल्ला की सुरक्षा में सेंध, जम्मू घर में घुसे आदमी को पुलिस ने गोली मारी

फारूक अब्दुल्ला की सुरक्षा में सेंध, जम्मू घर में घुसे आदमी को पुलिस ने गोली मारी जम्मूः नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के घर के मुख्य द्वार से तेजरफ्तार कार भिड़ाने और तोड़ फोड़ करने वाले व्यक्ति को सीआरपीएफ के जवानों ने गोली मार दी। पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला और उनके बेटे उमर को जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है।

फारूक श्रीनगर निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा के सांसद हैं। फिलहाल वह संसद सत्र के लिए नयी दिल्ली में हैं। चश्मदीदों के अनुसार घटना आज सुबह जम्मू शहर के भटिंडी में हुई, जब एक शख्स ने एक्सयूवी पूर्व मुख्यमंत्री के निवास के मुख्य द्वार से टकरा दिया और तेजी से गाड़ी चलते हुए अंदरूनी बगीचे में पहुंच गया।

पुलिस ने बताया कि व्यक्ति की पहचान मुरफाद अली शाह के तौर पर हुई है।

पुलिस महानिदेशक एसपी वैद्य ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने कहा, ‘‘हम मामले की जांच कर रहे हैं और हमले के पीछे के कारण पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।’’

पुलिस के वरिष्ठ अधीक्षक (जम्मू) ने कहा कि व्यक्ति जबरन परिसर में दाखिल हो गया और बार-बार चेतावनी देने के बाद भी नहीं रूका। उन्होंने बताया कि घटना में एक पुलिस कर्मी भी घायल हुआ है।

घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए फारूक ने ‘पीटीआई भाषा’ से कहा, ‘‘ऐसी घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है और यह राज्य की सुरक्षा स्थिति को दर्शाता है। पुलिस को युवक के ऐसा करने के पीछे के कारण का पता लगाना चाहिए।’’

पुलिस ने बताया कि शाह जम्मू के पुंछ जिले में मेंढर तहसील के गुलहाता गांव का निवासी है। उसका परिवार अभी जम्मू के चिन्नोर में रहता है। उसके पिता जम्मू के बन-तालाब में बंदूक की दुकान चलाते हैं।

उसके रिश्तेदारों ने पत्रकारों से कहा कि वह सुबह जिम गया था और उन्हें नहीं पता कि वह कैसे फारूक के निवास पर पहुंच गया। उनमें से एक ने कहा, ‘‘उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया। उसके पास कोई हथियार या विस्फोटक सामग्री नहीं थी।’’

शाह के किसी प्रकार का नशा करने की बात पुछने पर उसके रिश्तेदारों ने कहा, ‘‘वह सुबह-शाम जिम जाता था। उनसे पूछो?’’

घटना की विस्तृत जानकारी देते हुए चश्मदीदों ने बताया कि कार को लोहे के दरवाजे में भिडा़ने के बाद घर के पास तक पहुंचने तक वह गाड़ी चलाता रहा।

पुलिस ने बताया कि वह लॉन में रूका (जहां कड़ी सुरक्षा होनी चाहिए थी) और मुख्य लॉबी में दाखिल हो गया जहां उसने शीशे की मेज और दीवारों पर लगी तस्वीरें तोड़ दी और सीढ़ियों पर चढ़ना शुरू कर दिया।

उन्होंने बताया कि इस बीच नेशनल कांफ्रेंस के नेता के निवास पर तैनात सीआरपीएफ कर्मियों ने उसे गोली मार दी। पुलिस ने बताया कि घटना के संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और उसके पिता की तलाश जारी है।

कड़ी सुरक्षा के बीच भी शाह कैसे फारूक के घर के इतनी अंदर तक पहुंच गया यह पता लगाने के लिए जांच के आदेश दिए गए हैं। फारूक के जम्मू स्थित घर पर सीआरपीएफ का और श्रीनगर स्थित घर पर बीएसएफ का पहरा है।
अन्य प्रांत लेख
Niva Ply, Plywood for Generations
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख
 
stack