Sunday, 20 September 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

फीफा विश्व कप 2018: रूस बनाम स्पेन, आखिरी 16 मुकाबला, पेनाल्टी शूटआउट में रूस ने स्पेन को 4-3 से हराया

फीफा विश्व कप 2018: रूस बनाम स्पेन, आखिरी 16 मुकाबला, पेनाल्टी शूटआउट में रूस ने स्पेन को 4-3 से हराया मॉस्कोः फीफा विश्व कप 2018 में रविवार को मेजबान रूस ने 2010 की विश्व चैंपियन स्पेन को पेनल्टी शूटआउट में 4-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। दोनों टीमों के बीच लुजिन्हकी स्टेडियम में खेला गया यह मुकाबला कांटे की टक्कर था।

पहले हाफ में दोनों ही टीमों ने गोल कर स्कोर को 1-1 से बराबरी किया। पहले हाफ के शुरुआत में रूस के आत्मघाती गोल (इग्नाशेविच 12') से स्पेन को 1-0 की बढ़त मिली। वहीं, हाफ टाइम से कुछ देर पहले यानी 41वें मिनट में रूस की तरफ से डज्युबा ने शानदार गोल दागकर स्कोर को 1-1 से बराबर किया।

वहीं, दूसरे हाफ का खेल गोलरहित रहा। दोनों ही टीमें दूसरे हाफ में गोलकर बढ़त लेने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। इसके बाद यह मुकाबला एक्सट्रा टाइम में चला गया। रिजल्ट के लिए दोनों टीमों के लिए 30 मिनट का खेल और बढ़ाया गया लेकिव वहां भी नतीजा नहीं निकला। इसके बाद नतीजा के लिए दोनों टीमों के बीच पेनल्टी शूटआउट का मुकाबला कराया गया, जिसमें मेजबान रूस ने 2010 की विश्व विजेता स्पेन को 4-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

पेनल्टी शूटआउट में स्पेन की तरफ से पहला गोल आंद्रेस इनेएस्ता ने किया, जबकि रूस की तरफ से फेडर स्मोलोव ने शानदार गोलकर स्कोर को बराबर किया। इसके बाद स्पेन की तरफ से गेरार्ड पिके ने गोल दागकर स्कोर को 2-1 से आगे बढ़ाया, जबकि रूस की तरफ से इग्नाशेविच ने गोल दागकर स्कोर को 2-2 से बराबर किया।

स्पेन की तरफ से कोके ने शानदार किक जमाई, लेकिन अकिनफीव ने इसे रोककर स्पेन के दिल पर पहला हमला किया। वहीं गोलोविन ने गोल दागकर रूस को 3-2 से बढ़त दिला दी। इसके बाद स्पेन की तरफ से रामोस ने गोलकर स्कोर को 3-3 से बराबर कर लिया। वहीं, अगला गोल रूस की रफ से डेनिस चेरीशेव नें गोलकर 4-3 से बढ़त दिलाई। स्पेन के लिए आखिरी शॉट लेने आए लागो अस्पास ने किक जमाई, लेकिन इगोर अकिनफीव ने इसे रोककर अपना नाम इतिहास के पन्नों पर अमर कर दिया।

-रूस ने पहली बार विश्व कप में शूटआउट का मैच जीता। 1970 के बाद पहली बार रूस ने क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। तब बतौर सोवियत संघ रूस ने हिस्सा लिया था।

-दोनों टीमों के बीच का मुकाबला रिजल्ट के लिए पेनल्टी शूटआउट तक पहुंचा।

एक्सट्रा टाइम का फुलटाइम, स्कोर स्पेन 1ः रूस 1

- यह मुकाबला यदि पेनल्टी शूटआउट तक पहुंचेगा तो यह फीफा विश्व के इतिहास का 27वां पेनल्टी शूटआउट मुकाबला होगा।

-दोनों टीमों के बीच चल रहे मुकाबले के बीच बारिश भी शुरू हो गई है।

116 मिनटः रूस को कॉर्नर मिला लेकिन फायदा नहीं उठा पाए।

108 मिनटः स्पेन के खिलाड़ी रोड्रिगो मोरेनो के पास गोल करने मौका था, लेकिन नाकाम रहे।

एक्सट्रा टाइम के दूसरे हाफ का खेल शुरू।

एक्सट्रा टाइम का पहला हाफ खत्म, स्कोर- स्पेन 1:  रूस 1

103 मिनटः स्पेन ने अपने टीम में बदलाव किया। असेंसिओ की जगह रोड्रिगो मोरेनो को मैदान पर बुलाया गया है।

100 मिनटः एक्सट्रा टाइम में केवल 20 मिनट का खएल बचा है। अभी भी स्कोर 1-1 की बराबरी पर है।

-फुलटाइम हो गया है। स्पेन-रूस का स्कोर 1-1 से बराबर, दोनों टीमों के बीच एक्सट्रा टाइम में 30 मिनट का खेल खेला जा रहा है। इस एक्सट्रा टाइम में दोनों टीमों का रिजल्ट आने का चांस हो सकता है।

फुलटाइम, स्कोर- स्पेन 1: रूस 1

90 मिनटः दूसरे हाफ का खेल खत्म। 4 मिनट का इंजुरी टाइम जोड़ा गया है।

83 मिनटः स्पेन को कॉर्नर मिला, लेकिन कोई फायदा नहीं।

79 मिनटः स्पेन का यह तीसरा बदलाव। डिएगो कोस्टा की जगह असपस को मैदान पर बुलाया गया है।

75 मिनटः दूसरे हाफ का खेल खत्म होने में मजह 15 मिनट का खेल बचा है। दोनों ही टीम दूसरे हाफ में गोल करने के लिए आक्रमण कर रहे हैं, लेकिन कोई नतीजा नहीं अब तक निकला है। अब यह देखना है कि अगले 15 मिनट में क्या दोनों टीमों में से कोई बढ़त ले पाता है या नहीं।

71 मिनटः रूस के खिलाड़ी जोबनीन को येलो कार्ड दिखाया गया।

67 मिनटः स्पेन ने अपने टीम में बदलाव करते हुए सिल्वा की जगह आंद्रेस इनिएस्टा को मैदान पर बुलाया है।

64 मिनटः रूस ने अपने टीम में बदलाव करते हुए डज्युबा की जगह पर फेडर स्मोलोव को मैदान पर बुलाया गया है।

60 मिनटः रूस के स्टार खिलाड़ी डेनिस चेरीशेव को मैदान पर बुलाया गया है।

- पहले हाफ में दोनों टीमों का खेल वैसे अच्छा रहा लेकिन रूस ने स्पेन से थोड़ा बेहतर खेला। दूसरे हाफ में दोनों टीमें बढ़त बनाने की होड़ में हैं। अब यह देखना होगी कि दूसरे हाफ में कौन सी टीम बढ़त बना पाती है।

58 मिनटः स्पेन को मिला इस मुकाबला का पहली कॉर्नर, लेकिन इसको भुनाने में नाकाम रहे।

56 मिनटः रूस को कॉर्नर मिला लेकिन निराश हाथ लगी।

53 मिनटः रूस के खिलाड़ी कुटेपोव को येलो कार्ड दिखाया गया।

47 मिनटः स्पेन ने गोल करने का अच्छा मौका बनाया, लेकिन रूस के गोलकीपर ने अच्छा बचाव किया।

-दूसरे हाफ में रूस ने अपने टीमों में बदलाव किया है। झिर्कोव की जगह ग्रानट को मैदान पर बुलाया गया है।

46 मिनटः दूसरे हाफ का खेल शुरू।

- बुल्गारिया (1966) के बाद रूस दूसरी ऐसी टीम है जो विश्व कप में दो ऑन गोल किए।

- स्पेन कभी नहीं मेजबान टीम को विश्व कप में हराया है।

हाफ टाइम, स्कोरः स्पेन 1ःरूस 1
 
पहले हाफ का स्टैट्स

गोल एटैम्प्ट्स
स्पेन- ऑफ टारगेट 0, ऑन टारगेट 2
रूस-ऑफ टारगेट 2, ऑन टारगेट 0

कॉर्नर
स्पेन 0, रूस 3

फाउल
स्पेन 2, रूस 6

45 मिनटः पहले हाफ का खेल खत्म। स्कोर 1-1 से बराबर। दो मिनट का समय और जोड़ा गया है।

41 मिनटः रूस को गेरार्ड पिके के फाउल पर पेनल्टी मिली, जिसे डज्युबा ने गोल में बदल कर टीम के स्कोर को 1-1 से बराबरी करवाई। पिके को येलो कार्ड दिखाया गया।
 
36 मिनटः रूस के पास गोल करने का दमदार मौका था, लेकिन वह मौके को भुना नहीं पाए।

30 मिनटः पहले हाफ का खेल खत्म होने में 15 मिनट का खेल बचा है। स्पेन पहले हाफ में रूस पर 1-0 की बढ़त बना चुकी है। अब देखना यह होगा की मेजबान रूस स्पेन की बराबरी कर पाता या नहीं। स्पेन पर दबाव दिखने लगा है। इस मुकाबले में बने रहने के लिए उसे जल्द ही एक गोल की आवश्यकता है।

28 मिनटः रूस को कॉर्नर मिला, लेकिन इसका लाभ नहीं ले पाए।

23 मिनटः रूस को फ्री किक मिली, लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा पाए।

16 मिनटः इस आन गोल पर शक किया जा रहा था था लेकिन 16वें मिनट इसे कनफर्म कर दिया गया कि यह वाकई ऑन गोल है।

- यह गोल रूस में चल रहे फीफा विश्व कप 2018 का दसवां ऑन गोल है। इसके साथ किसी एक विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल ऑन गोल का रिकार्ड बन गया।

12 मिनटः गोल (इग्नाशेविच 12' ऑन गोल)

12 मिनटः  ...और ये गोल। रूस ने दागा आत्मघाती गोल। इग्नाशेविच ने ऑन गोल कर स्पेन को 1-0 की बढ़त दिलाई।
 
11 मिनटः स्पेन के खिलाड़ी रामोस को जबर्दस्त चोट लगी, जिसके कारण उसे फ्री किक मिली, जिसका भरपुर फायदा उन्होंने उठाया।

10 मिनटः दोनों टीमों के बीच लगभग 10 मिनट का खेल हे चुका है, लेकिन दोनों ही टीम गोल करने में नाकाम रही है।

4 मिनटः मेजबान टीम रूस को पहला कॉर्नर मिला, लेकिन उसका फायदा नहीं पाए।

3 मिनटः दोनों टीमों ने मुकाबला को धीमी शुरुआत की है।

1 मिनटः स्पेन ने किक ऑफ किया।

- दोनों टीमों के बीच मुकाबला शुरू।

- दोनों टीमें राष्ट्रगान के लिए मैदान पर आ चुके हैं।

टीमें इस प्रकार हैः

स्पेनः डेविड डी गी, नाचो, गेरार्ड पिके, सर्गियो रामोस, जोर्डी अल्बा, कोक, सर्जियो बुस्केट्स, डेविड सिल्वा, इस्को, डिएगो कोस्टा और असेंसिओ।

रूसः अकिफीव, फर्नांडिज, कुद्रीशोव, कुटेपोव, इग्नाशेविच, झिर्कोव, सेमडोव, गोलोविन, डज्युबा, जोबनीन, कुज्येव।
अन्य खेल- खिलाड़ी लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack