केजी बोपैया बने रहें प्रोटेम स्‍पीकर, पर कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण का हो सीधा प्रसारणः सुप्रीम कोर्ट

केजी बोपैया बने रहें प्रोटेम स्‍पीकर, पर कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण का हो सीधा प्रसारणः सुप्रीम कोर्ट नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा में बीएस येदियुरप्पा के विश्वासमत से ठीक पहले वरिष्ठतम विधायक के बजाय जूनियर विधायक को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किए जाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस ने याचिका पर आगे न बढ़ने की बात मानी है. इसके बाद से अब तय हो गया है कि केजी बोपैया प्रोटेम स्पीकर बने रहेंगे.

बता दें कि इससे पहले कर्नाटक में मुख्यमंत्री व बीजेपी नेता येदियुरप्पा को शनिवार को शाम 4 बजे तक बहुमत साबित करने के निर्देश सुप्रीम कोर्ट ने दिए हैं.

कांग्रेस प्रोटेम स्‍पीकर की नियुक्‍त‍ि के विरोध में कोर्ट चली गई थी. सुप्रीम कोर्ट में जो बेंच बीएस येदियुरप्‍पा के शपथ ग्रहण वाले मामले की सुनवाई कर रही है वही बेंच इस मामले की भी सुनवाई की.

कोर्ट ने स्‍पष्‍ट किया कि प्रोटेम स्‍पीकर केजी बोपैया बने रहेंगे और सदन में विश्‍वासमत की प्रक्रिया को संचालित करेंगे. विश्‍वासमत की पूरी प्रक्रिया सभी चैनलों पर लाइव दिखाई जाएगी.

कांग्रेस और जेडीएस ने अपनी याचिका में कहा था कि याचिकाकर्ता को एक बार फिर विवश होना पड़ा क्योंकि कानून के शासन को स्थापित करना है और दूसरे पक्ष ने एक जूनियर एमएलए को प्रोटेम स्पीकर बनाया है. फ्लोर टेस्ट सही और पारदर्शी तरीके से हो इसलिए सुप्रीम कोर्ट को तुरंत निर्देश देने चाहिए.

इससे पहले 16 मई को जब राज्‍यपाल ने बीजेपी विधायक दल के मनोनीत नेता बीएस येदियुरप्‍पा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया तो राज्‍यपाल के इस निर्णय के खिलाफ कांग्रेस एवं जेडीएस सुप्रीम कोर्ट चले गए. कोर्ट से अपील की गई की इस मामले की अभी सुनवाई हो और बीएस येदियुरप्‍पा को शपथ ग्रहण करने से रोका जाए. 

तमाम दलीलों को सुनने के बाद कोर्ट ने बीएस येदियुरप्‍पा को शपथ लेने से रोकने के आग्रह को ठुकरा दिया. साथ ही कोर्ट ने इस मामले पर 18 मई को सुनवाई की तारीख दी. 18 मई को हुई सुनवाई में कोर्ट ने कहा कि शनिवार शाम 4 बजे सदन में बीएस येदियुरप्‍पा अपना बहुमत साबित करे. राज्‍यपाल ने बहुमत साबित करने के लिए 15 दिनों का समय दिया था जिसे कोर्ट ने नहीं माना.
अन्य विधि एवं न्याय लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack