Friday, 22 January 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

'ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं': अवैध प्रवासियों पर चर्चा के दौरान एमएस-13 सदस्यों पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणी

'ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं': अवैध प्रवासियों पर चर्चा के दौरान एमएस-13 सदस्यों पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणी वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ अवैध प्रवासियों की तुलना गुरुवार को ‘‘जानवर’’ से की. उन्होंने अमेरिका के प्रवासी कानूनों को ‘‘बेकार’’ बताते हुए उनकी आलोचना की और कहा कि केवल योग्यता के आधार पर लोगों को अमेरिका में शरण देनी चाहिए.

मैक्सिको और कैलिफोर्निया के अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए ट्रंप ने अमेरिका के ‘‘कमजोर’’ प्रवासी कानूनों को मजबूत करने का आह्वान किया.

ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कैलिफोर्निया सैंक्चुरी स्टेट राउंडटेबल के दौरान कहा, ‘‘हमारे देश में लोग आ रहे हैं या आने की कोशिश कर रहे हैं. हम उनमें से बहुतों को रोक रहे हैं. आप यकीन नहीं करेंगे कि ये लोग कितने बुरे हैं, ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम उन लोगों को एक स्तर तक देश से बाहर ले जा रहे हैं और इतनी संख्या में बाहर ले जा रहे हैं जो पहले कभी नहीं हुआ. इन कमजोर कानूनों के कारण वे तेजी से देश के अंदर आ रहे हैं, हम उन्हें छोड़ रहे हैं और वे दोबारा आ रहे हैं. यह बेवकूफाना है.’’

ट्रंप ने देश में बड़ी संख्या में अवैध प्रवासियों के आने के लिए देश के ‘‘बेकार कानूनों’’ को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने हाल के महीनों में कांग्रेस से बार-बार अपील की है कि वह मैक्सिको सीमा पार करके अमेरिका आने वाले प्रवासियों की संख्या रोकने के लिए कड़े कानून लागू करें.

उन्होंने कहा कि कैलिफोर्निया के कानून अवैध प्रवासी अपराधियों , ड्रग डीलरों , गिरोह सदस्यों और हिंसक लुटेरों को समुदायों में छोड़ देने के लिए मजबूर करते हैं.

ट्रंप ने कहा, ‘‘ कैलिफोर्निया के कानून धरती पर सबसे कुख्यात और हिंसक अपराधियों जैसे कि एमएस-13 आपराधिक गिरोह के सदस्यों को पनाहगाह देते हैं जिससे निर्दोष पुरुष, महिलाओं और बच्चों को इन निर्दयी अपराधियों के रहमो करम पर छोड़ दिया जाता है.’’ ट्रंप ने कहा कि वह चाहते हैं कि लोगों को योग्यता के आधार पर कानूनी तरीके से अमेरिका में प्रवेश दिया जाए.
अन्य अमेरिका लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack