Sunday, 21 October 2018  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

ऐसे मारी गई थी नक्सली कमांडर बासमती कोल, पुलिस की बड़ी कामयाबी, हत्यारा गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

ऐसे मारी गई थी नक्सली कमांडर बासमती कोल, पुलिस की बड़ी कामयाबी, हत्यारा गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला नौगढ़ः कुख्यात नक्सली कमांडर देव ब्रत कोल की बहन और समाजवादी पार्टी के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री रहे मुलायम सिंह यादव की मुंहबोली बेटी और किसी जमाने मे नक्सल प्रभावित नौगढ़ इलाके में आतंक का पर्याय मानी जाने वाली पूर्व ब्लॉक प्रमुख और अखिलेश सरकार में राज्य महिला आयोग की सदस्य रही बासमती कोल की सनसनीखेज हत्या के कुछ ही घंटे बाद पुलिस उस वक्त बड़ी कामयाबी मिली, जब उसने बासमती कोल के हत्यारे काशी नाथ कोल को गिरफ्तार कर लिया.

एसपी संतोष कुमार सिंह के अनुसार बासमती कोल पिछले कुछ दिनों से शराब की आदी हो गईं थीं और वही उनकी मौत का शबब बन गई. कल दोपहर भी उन्होंने काशी नाथ कोल के साथ मिल कर शराब पिया था. इसी दौरान उनकी किसी बात पर काशीनाथ झंझट हो गई. काशी नाथ कोल के साथ उनका यह विवाद इतना बढ़ गया कि मारपीट तक जा पहुंचा.  इसी मारपीट के दौरान बासमती कोल को सिर में गंभीर चोट लगी थी, जिससे बाद में उनकी मौत हो गई.

बासमती कोल की हत्या की खबर से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई थी. बासमती कोल का नक्सल प्रभावित नौगढ़ में काफी प्रभाव था. वह नौगढ़ ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख भी रह चुकी हैं. पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने मृत बासमती कोल को चन्दौली की एक सभा के दौरान अपनी बेटी का दर्जा दिया था.

यही नहीं सपा की पूर्ववर्ती अखिलेश यादव सरकार में इनके दबदबे का असर भी देखने को मिला था. बासमती कोल को राज्य मंत्री का दर्जा देते हुए उन्हें राज्य महिला आयोग का सदस्य भी बनाया गया था.

गौरतलब है कि चंदौली में गुरुवार रात पूर्व नक्सली एरिया कमांडर बासमती कोल की हत्या कर दी गई और नौगढ़ थाना क्षेत्र के तेनुआ गांव के पास लोहतनिया बीट स्थित उनके घर के समीप उनका शव बरामद हुआ था. शव पर कई जगह चोट के निशान देखे गए हैं. वैसे इस हत्या के पीछे पहले ही स्थानीय लोगों द्वारा आपसी विवाद के चलते हत्या की आशंका जताई जा रही है.

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पहले ही भेज दिया था. जानकारों का मानना है कि  घटना की जांच में जुटी पुलिस ने बासमती के हत्यारे को गिरफ्तार कर वर्षो से शांत नक्सल प्रभावित नौगढ़ इलाके को अशांत होने से भी बचा लिया है. एस पी संतोष कुमार सिंह ने पूरे इलाके में एहतियात के तौर पर विशेष चौकसी बरतने के निर्देश दिए हैं. जिस पर पुलिस ने अपना काम बखूबी शुरू भी कर दिया है.
अन्य अपराध लेख
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack