सीबीएसई 12वीं की अकाउंट्स परीक्षा का पेपर व्हाट्सएप पर लीक, बोर्ड ने कहा अफवाह

सीबीएसई 12वीं की अकाउंट्स परीक्षा का पेपर व्हाट्सएप पर लीक, बोर्ड ने कहा अफवाह नई दिल्लीः सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा का अकाउंट्स का पेपर लीक होने की खबर पूरे दिन हवा में तैरती रही. सूत्रों के मुताबिक, बोर्ड पेपर लीक होने के मामले की जांच शुरू कर दी गई है. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने इस संबंध में शिक्षा विभाग से बात की. बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह से ही व्हॉट्सएप पर अकाउंट्स के पेपर की कॉपी शेयर की जा रही थी, जिसकी सूचना अधिकारियों तक पहुंची.

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि उन्हें 12वीं के अकाउंट्स के पेपर लीक होने की सूचना मिली थी. इस बारे में शिक्षा विभाग से बात हुई है. उन्होंने आगे कहा कि सीबीएसई में मामले से संबंधित शिकायत कर दी गई है और उन्हें जांच करने के लिए कहा गया है. मनीष सिसोदिया ने कहा कि मामले में तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए ताकि सीबीएसई की लापरवाही के कारण स्टूडेंट्स को परेशान न होना पड़े.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, अकाउंट्स का सेट-2 का पेपर लीक हुआ है. बुधवार शाम से ही ये सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा था. जानकारी मिलने पर सीबीएसई ने सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे पेपर की प्रति का जब उनके पास मौजूद प्रश्नपत्र से मिलान किया तो सभी सवाल समान पाए गए. जानकारी मिली है कि दिल्ली के रोहिणी से इस पेपर को लीक करना शुरू किया गया था. सीबीआई की ओर से एक विशेष टीम पेपर लीक की जांच कर रही है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीबीएसई का मानना है कि पेपर लीक करना किसी स्टूडेंट का काम नहीं हो सकता. माना जा रहा है कि किसी अंदर के ही कर्मचारी ने एग्जाम पेपर को लीक करने में मदद की है.

गुरुवार को 12वीं के वाणिज्य संकाय के एकाउंटेंसी पेपर की परीक्षा के दौरान प्रश्नपत्र वायरल होने की सूचनाएं दिन भर चलती रहीं. हालांकि पेपर लीक होने  की बात पर सीबीएसई की ओर से भी बैठक बुलायी गयी. मामले के पड़ताल के बाद सीबीएसई ने पेपर वायरल नहीं होने की बात कहते हुए पेपर को  क्लिन चिट दे दिया. भले ही सीबीएसई ने पेपर लीक से इन्कार किया, लेकिन वायरल हुए पेपर के सेट और परीक्षा दे रहे बच्चों के पेपर का जब मिलान किया गया तो दोनों मैच कर रहे थे.
 
पड़ताल में पाया कि वायरल सेट का पेपर और परीक्षा का पेपर दोनों एक ही है. वायरल हुए पेपर के सेट से मिलने की सूचनाएं दिन भर मिलती रहीं. हालांकि इसकी पुष्टि होने की कोई सूचना देर शाम तक नहीं मिल पायी. गुरुवार को परीक्षा के दौरान यह सूचना मिली की एकाउंट  के पेपर का सेट-2 लीक हो चुका है और ये वाट्सएप के जरिए सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

इस बीच सीबीएसई ने पेपर लीक होने से मना किया है. सीबीएसई सूत्रों के मुताबिक पेपर लीक नहीं हुआ है, यह अफवाह है. कोई भी पेपर लीक नहीं कर सकता. बोर्ड पेपर पूरी सुरक्षा में रखे जाते हैं और सिर्फ बड़े अधिकारियों और शिक्षकों को ही इसकी जानकारी होती है. सेंटर पर परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे पहले ही बैंक से प्रश्न पत्र मंगाये जाते हैं. चार वरीय शिक्षक व पदाधिकारियों के समक्ष खोला और बांटा जाता है.

आपको बता दें की सीबीएसई 12वीं की परीक्षा पांच मार्च से शुरू हुई थी. अकाउंट्स का पेपर 15 मार्च को होना था, लेकिन इससे पहले ही पेपर लीक हो गया.
अन्य शिक्षा लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack