Saturday, 17 April 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी, मेहुल चोकसी को ईडी का समन, गीतांजलि पर सीबीआई ने केस दर्ज किया

जनता जनार्दन संवाददाता , Feb 16, 2018, 22:43 pm IST
Keywords: मेहुल चौकसी   गीतांजलि जेम्स   पीएनबी घोटाला   PNB fraud   PNB   PNB scam   Nirav Modi   Mehul Choksi   Income Tax department   CBI   Gitanjali Group   ईडी   नीरव मोदी   सीबीआई   पीएनबी फ्रॉड     
फ़ॉन्ट साइज :
पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी, मेहुल चोकसी को ईडी का समन, गीतांजलि पर सीबीआई ने केस दर्ज किया नई दिल्लीः सूत्रों से जानकारी मिली है कि ईडी ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को 23 फरवरी से पहले इसके मुंबई दफ्तर में हाजिर होने के लिए समन जारी किया है. ईडी ने नीरव मोदी की कंपनी को आदेश दिया है कि ये कंपनी अपने न्यूयॉर्क, लंदन, बीजिंग और मकाऊ के आुटलेट्स में तब तक कोई लेनदेन न करें जब तक मामले की जांच चल रही है.

अधिकारियों के हवाले से खबर आई है कि सीबीआई में दर्ज एफआईआर के आधार पर ईडी ने गीतांजलि जेम्स के प्रमोटर मेहुल चौकसी के खिलाफ नया मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है.

पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी का पासपोर्ट निलंबित हो चुका है. विदेश मंत्रालय ने हीरा व्यापारी नीरव मोदी और उसके कारोबारी साझेदार मेहुल चौकसी का पासपोर्ट तत्काल प्रभाव से चार हफ्तों के लिए निलंबित कर दिया है. मंत्रालय ने उनसे इस पर एक हफ्ते में जवाब मांगा है कि उनका पासपोर्ट रद्द क्यों नहीं किया जाए. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि नीरव मोदी कहां है, ये विदेश मंत्रालय को पता नहीं है लेकिन वो जिस भी देश में होंगे, वहां से कहीं भाग नहीं सकते हैं.

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ अगर वे दिए गए समय में जवाब देने में असफल रहते हैं तो यह मान लिया जाएगा कि उनके पास कोई जवाब नहीं है और विदेश मंत्रालय (पासपोर्ट) रद्द करने पर आगे बढ़ेगा,’’

पासपोर्ट को निलंबित करने का ऐलान करते हुए मंत्रालय ने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय की सलाह पर विदेश मंत्रालय के तहत आने वाले पासपोर्ट कार्यालय ने आज नीरव दीपक मोदी और मेहुल चिनुभाई चौकसी का पासपोर्ट तत्काल प्रभाव से चार हफ्तों के लिए निलंबित कर दिया है, यह कार्रवाई पासपोर्ट अधिनियम की धारा 10 (ए) के तहत की गई है. इसमें कहा गया है कि पासपोर्ट अधिनियम 1967 की धारा 10 (3) (सी) के तहत उन्हें यह जवाब देने के लिए एक हफ्ते का वक्त दिया गया है कि उनका पासपोर्ट जब्त या रद्द क्यों नहीं किया जाए.

सीबीआई और ईडी ने कल विदेश मंत्रालय में अलग अलग आवेदन भेजकर मांग की थी कि नीरव मोदी और उसके मामा और उसके कारोबारी साझेदार मेहुल चौकसी का पासपोर्ट रद्द किया जाए, चौकसी गीतांचलि ज्वैलर्स चेन का प्रमोटर है, दोनों 280 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी के मामले में आरोपी हैं.

वहीं नीरव मोदी के पार्टनर और घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स पर छापे मारे जा रहे हैं, प्रवर्तन निदेशालय ने आज 6 शहरों में छापे मारे हैं, जयपुर के सीतापुरा इलाके में गीतांजलि जेम्स पर और नक्षत्र के ठिकानो पर छापे मारे गए.

नीरव मोदी हीरे की ज्वेलरी का बहुत बड़ा कारोबारी है और ग्लैमर की दुनिया में जाना माना नाम है. 48 साल के नीरव मोदी के नाम से हीरों का बड़ा ब्रांड है. कहा जाता है कि मेहमानों को लुभाने के लिए नीरव मोदी पेड़ों को भी हीरों से जड़ देते हैं. मॉडल्स नीरव मोदी के करोड़ों के गहने पहन कर इतराती नजर आती हैं. इतना ही नहीं, फिल्म एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा से लेकर सिद्धार्थ मल्होत्रा तक नीरव मोदी के लिए विज्ञापन कर चुके हैं.

48 साल के नीरव की दो कंपनियां हैं. पहला हीरो का कारोबार करने वाली कंपनी फायरस्टार डायमंड और दूसरा ब्रांड नीरव मोदी. नीरव अपने ब्रांड नीरव मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा लक्जरी ब्रांड बनाना चाहते थे लेकिन अब जो खुलासे सामने आ रहे हैं उससे डायमंड किंग नीरव मोदी का नाम बदनाम हो गया है.

नीरव मोदी बेल्जियम के एंटवर्प शहर के मशहूर डायमंड ब्रोकर परिवार से ताल्लुक रखते हैं. एक वक्त ऐसा था कि वो खुद ज्वैलरी डिजाइन नहीं करना चाहते थे लेकिन पहली ज्वैलरी डिजाइन करने के बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा. उनकी डिजाइन की हुई ज्वैलरी की कीमत करोड़ों तक होती है.

नीरव मोदी भारत के एकमात्र भारतीय ज्वैलरी ब्रांड के मालिक हैं जो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चर्चित हैं. उनके डिजाइन किए गए गहने हॉलीवुड की हस्तियों से लेकर देशी धनकुबेरों की पत्नियों की शोभा बढ़ाते रहे हैं. उनके द्वारा डिजाइन किया गया गोलकोंडा नेकलेस 2010 में हुई नीलामी में 16.29 करोड़ में बिका था, जबकि 2014 में एक नेकलेस 50 करोड़ रुपये में नीलाम हुआ था.

अपने ज्वैलरी ब्रांड के दम पर वो फोर्ब्स की भारतीय धनकुबेरों की 2017 की सूची में 84वें नंबर पर मौजूद हैं. उनकी माली हैसियत लगभग 12 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति है और उनकी कंपनी 149 अरब रुपये के आसपास है. नीरव मोदी का शोरूम दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में है.
अन्य व्यापार लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack