बेंगलुरु में पीएम मोदी: कर्नाटक में कांग्रेस एग्जिट गेट पर खड़ी, येदुरप्पा होंगे सीएम उम्मीदवार

बेंगलुरु में पीएम मोदी: कर्नाटक में कांग्रेस एग्जिट गेट पर खड़ी, येदुरप्पा होंगे सीएम उम्मीदवार बेंगलुरु: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बीजेपी की 'कर्नाटक नवनिर्माण यात्रा' के समापन के मौके पर इसमें हिस्सा लिया और भाषण दिया. मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने इस देश में बहुत लूट मचाई है, अब कर्नाटक में बीजेपी की सरकार राज्य के विकास को 21वीं सदी में ले जाएगी और सबकी जिंदगी को आसान बनाएगी. उन्होंने अपने भाषण में बीएस येदियुरप्पा को सीएम चेहरा बनाने के संकेत दिए. उनके भाषण की मुख्य बातें ये रहीं.

कर्नाटक में उल्टी गंगा बह रही है. यहां अपराधियों का राज नजर आता है. बेंगलुरु में आम लोगों को जिंदगी जीने में परेशानी हो रही है. हम 'ईज ऑफ लिविंग' की बात कर रहे हैं और यहां कांग्रेस के शासन में 'ईज ऑफ डूइंग मर्डर' की चर्चा हो रही है. इस सरकार का विरोध करने पर जान जाने का खतरा हो रहा है. हमारे कार्यकर्ताओं की हत्या हो रही है. इस राज्य को अपराध और भ्रष्टाचार से मुक्त करने का समय आ गया है. कभी 250 करोड़ तो कभी 2500 करोड़ भ्रष्टाचार की खबरें आती हैं. कर्नाटक की पहचान 10% वाली सरकार के तौर पर हो गई है. यहां चढ़ावा दिए बिना काम नहीं होता.

पीएम आवास योजना के तहत केंद्र ने 3.36 लाख घरों के लिए स्वीकृति दी. कर्नाटक सरकार ने सिर्फ 38 हजार घरों के लिए हरी झंडी दिखाई. दो लाख घरों पर तो काम भी शुरू नहीं किया गया. शहरी इलाकों में 3.5 लाख शौचालय बनने थे, सिर्फ 1.32 लाख शौचालय बने. शहरों को स्वच्छ बनाने के लिए केंद्र ने कर्नाटक को 247 करोड़ रुपये दिए थे, 70 करोड़ अब तक खर्च भी नहीं हो सके हैं. स्मार्ट सिटी मिशन के लिए 836 करोड़ रुपये दिए, कांग्रेस सरकार सिर्फ 143 करोड़ रुपये का काम शुरू कर पाई है. ये सुनकर आप इस सरकार को उखाड़ फेंकेंगे.

मोदी ने कहा कि पीएम जनधन योजना के जरिए गरीबों ने बैंकों के दरवाजे देखे, पीएम मुद्रा योजना के जरिए 1 करोड़ रुपये के लोन स्वीकृत किए गए. प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में राज्य की साढ़े आठ लाख महिलाओं को गैस कनेक्शन दिया गया, स्वच्छ भारत मिशन से 34 लाख शौचालय बनवाए गए, मिशन इंद्रधनुष में 9 लाख बच्चों और 1.5 लाख महिलाओं का टीकाकरण किया गया.

सौभाग्य योजना के तहत कर्नाटक में 7 लाख घरों में बिजली का कनेक्शन दिया जाएगा. पूरे देश में 4 करोड़ घरों में बिजली नहीं है. इससे केवल घर नहीं लोगों की जिंदगी भी रोशन होगी. 17 हजार करोड़ रुपये की लागत से सबअरबन रेलवे नेटवर्क पर काम शुरू हो जाएगा. इसमें 28 स्टेशन बनेंगे और 15 लाख लोगों को फायदा मिलेगा.

स्टार्ट अप इंडिया के लिए 10 हजार करोड़ रुपये का फंड बनाया है और उन्हें टैक्स में भी छूट दी जा रही है. इससे मध्य वर्ग को फायदा मिलेगा. आज मध्य वर्ग नौकरी नहीं तलाशता, नौकरी देता है. हमने मुद्रा योजना से स्वरोजगार के लिए बैंक गारंटी को खत्म कर दिया. इससे पिछले तीन साल में तीन करोड़ नए उद्यमी मिले हैं और ये लोग दूसरों को रोजगार दे रहे हैं. इस साल तीन लाख करोड़ रुपये दिए जाएंगे. लघु और मध्यम उद्योगों को भी राहत दी है.

भारतमाला योजना के 35 हजार किमी सड़कों का निर्माण किया जा रहा है, देश के 600 बड़े रेलवे स्टेशनों का आधुनिकीकरण किया जा रहा है, 56 नए एयरपोर्ट और 31 नए हैलीपेड बन रहे हैं. पहले किसानों को यूरिया के लिए परेशानी होती थी, हमने यूरिया की नीम कोटिंग की. पीएम फसल बीमा योजना बनाई, पीएम सिंचाई योजना शुरू की. किसानों को 11 करोड़ सॉइल हेल्थ कार्ड बांटे. किसान के बेटे येदियुरप्पा जी ने कहा है कि कृषि सिंचाई के लिए 1 लाख करोड़ रुपये देंगे, केंद्र और राज्य की ताकत मिल जाएगी तो राज्य का ज्यादा विकास होगा.

इस समय कर्नाटक में 33 प्रोजेक्ट रेलवे और सड़क को लेकर चल रहे हैं. यूपीए के आखिरी चार सालों में कर्नाटक में 950 किमी लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग बना था, इस सरकार के साढ़े तीन साल में 1600 किमी लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग बन चुका है. कर्नाटक की चिंता किसके दिल में है, आप समझ सकते हैं. हमारे काम की स्पीड कितनी है, आप समझ सकते हैं. कांग्रेस के समय में यहां 38 किमी नई रेलवे लाइन और 105 किमी लाइन का दोहरीकरण हुआ, हमने 200 किमी लाइन से ज्यादा नई लाइन और उसका दोहरीकरण किया. इससे कई लोगों को रोजगार भी मिला.

4.5 सालों में केंद्र की ओर से मिली राशि का लाभ लोगों को नहीं मिला. यहां लोगों ने अपना कारोबार चलाया है. केंद्र में कांग्रेस थी तो कर्नाटक को 73,000 करोड़ रुपये मिलते थे, हमारे समय में कर्नाटक में 2 लाख करोड़ रुपये यानी 180 फीसदी की बढ़ोत्तरी के साथ राशि मिली. अन्य योजनाओं के लिए 40 हजार करोड़ रुपये मिलना भी तय हुआ.

मोदी ने इस रैली में बजट में की गई घोषणाओं और योजनाओं का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि टमाटर, आलू और प्याज उगाने वाले किसान और अन्य फल और सब्जियों को उगाने वाले किसानों पर खास ध्यान दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि दुग्ध क्रांति की तरह ऑपरेशन ग्रीन भी किसानों के जीवन में परिवर्तन लाएगा.

कर्नाटक में इसी साल अप्रैल तक चुनाव हो सकते हैं. पूरे कर्नाटक में करीब ढाई महीने तक चली बीजेपी की 'कर्नाटक नवनिर्माण यात्रा' भी रविवार को पूरी हो गई. हालांकि, यात्रा पूरी होने के मौके पर 28 जनवरी को ही पीएम को रैली में शिरकत करनी थी, लेकिन उनकी व्यस्तता के चलते यह रैली टाल दी गई थी. इसलिए रविवार को पीएम ने इस रैली को संबोधित किया.

इस मौके पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दावा किया कि केंद्र ने कर्नाटक को विभिन्न योजनाओं के तहत तीन लाख करोड़ रूपये से अधिक की राशि दी है, जिस पर कांग्रेस ने पलटवार भी किया. कांग्रेस के प्रदेश कार्यवाहक अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव और कर्नाटक के कृषि मंत्री कृष्ण बैरेगौड़ा ने अमित शाह की टिप्पणी को झूठ बताया है. राव ने कहा है कि बीजेपी ऐसे कह रही है मानो राज्य को तोहफे में धन दिया गया हो, जबकि हकीकत में सभी राज्य संवैधानिक रूप से इसके हकदार हैं. उन्होंने कहा कि कर्नाटक को 10,533 करोड़ रुपये कम मिले हैं.

दिनेश गुंडु ने पीएम मोदी के दौरे पर भी टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि हम जानते हैं कि आप (प्रधानमंत्री) हमें (रविवार को) तीन लाख करोड़ रूपये नहीं देंगे, लेकिन कम से कम आप अनुदान में कम हो रही राशि ही कर्नाटक को जारी कर दीजिए. इस पर बीजेपी प्रदेश प्रमुख बीएस येदियुरप्पा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और कहा कि कांग्रेस अपनी अक्षमता छिपाने के लिए अनुदान के बारे में बात कर रही है.
अन्य राज्य लेख
Niva Ply, Plywood for Generations
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack