व्हाइट हाउस के एतराज के बावजूद ट्रंप पर लिखी किताब रिलीज

व्हाइट हाउस के एतराज के बावजूद ट्रंप पर लिखी किताब रिलीज वाशिंगटनः अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया कि उन्होंने लेखक माइकल वोल्फ को उनकी बुक 'फायर एंड फ्यूरी: इनसाइड द ट्रंप व्हाइट हाउस' के लिए व्हाइट हाउस तक कोई पहुंच मुहैया नहीं कराई. बता दें कि इस पुस्तक का आज ही विमोचन होगा. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मैंने इस झूठी किताब के लेखक को व्हाइट हाउस तक कोई पहुंच मुहैया नहीं कराई (बल्कि कई बार उसका प्रस्ताव ठुकरा दिया). मैंने किताब के लिए उनसे कभी बात नहीं की. यह किताब झूठ का पुलिंदा और ऐसे सूत्रों से भरी है जो अस्तित्व में ही नहीं हैं.’’

उन्होंने अपने पूर्व मुख्य रणनीतिकार स्टीव बैनन का स्पष्ट रूप से जिक्र करते हुए कहा, ‘इस व्यक्ति के अतीत की ओर देखिए और देखिए कि उसके और स्लोपी स्टीव के साथ क्या होता है.’ किताब में बैनन का विशेष रूप से हवाला दिया गया है.

बता दें कि ट्रंप के वकीलों ने इस पुस्तक का विमोचन रोकने की कोशिश की थी. इसके बाद इस पुस्तक का निर्धारित समय से दो दिन पहले ही विमोचन हो रहा है.

पुस्तक में दावा किया गया है कि डोनाल्ड ट्रंप अपनी चुनावी जीत से हैरान थे, उन्होंने अपने उद्घाटन समारोह का आनंद नहीं लिया और वह व्हाइट हाउस को लेकर डरे हुए थे. व्हाइट हाउस ने भी इस पुस्तक की आलोचना की है.

न्यूयॉर्क मैगजीन के अनुसार चुनाव के दिन से अक्तूबर तक वोल्फ ने 18 महीने तक राष्ट्रपति और उनके वरिष्ठ कर्मचारियों से बातचीत की और उनका साक्षात्कार लिया. वोल्फ ने कहा कि, व्हाइट हाउस में ट्रंप के खुद के व्यवहार ने इतनी अराजकता और अव्यवस्था फैलाई जितनी किसी और चीज ने नहीं. बता दें कि यह किताब अगले सप्ताह बाजार में उपलब्ध होगी. इस बीच व्हाइट हाउस ने किताब के सभी दावों का खंडन किया.

व्हाइट हाउस ने किताब में किए दावों का खंडन करते हुए इसे फिक्शन के तौर पर वर्णित किया है. सैंडर्स ने कहा, 'यह पुस्तक झूठे और भ्रामक दावों से भरी हुई है,  जिनका व्हाइट हाउस के पास कोई पहुंच या प्रभाव नहीं है. किताब को केवल एक कथा के तौर पर लिखा गया, जो प्रासंगिकता पर उनके उदास प्रयासों को उजागर करता है. सैंडर्स का कहना है कि लेखक को इस पुस्तक के लिए व्हाइट से कोई प्रवेश नहीं मिला.

सैंडर्स ने दैनिक समाचार सम्मेलन में संवाददाताओं से कहा, सभी पहलुओं के स्पष्ट होने के लिए लेखक वास्तव में राष्ट्रपति के साथ कभी नहीं बैठे थे. सैंडर्स ने कहा, 'मुझे पता है कि पुस्तक में बहुत सी चीजें हैं लेकिन जो हमने देखा है वो पूरी तरह से असत्य हैं.

बुक में दावा किया गया है कि कैसे ट्रंप के जीतने के बाद इवांका ने अपने पति के सामने ये बात कही थी. उन्होंंने कहा था- अब अमेरिकी की अगली राष्ट्रपति मैं बनूंगी. अपने पति कुश्नर से कहा था- अमेरिकी की पहली महिला राष्ट्रपति तो मैं बनूंगी, हिलेरी नहीं. कुश्नर इसके लिए राजी भी हो गए थे. और उन्होंने तय भी कर लिया कि अगर ऐसा मौका आता है तो वह इवांका को ही प्राथमिकता देंगे. बता दें कि पत्रकार माइकल वॉल्फ ने लंबा समय डोनाल्ड ट्रंप और उसके परिवार के साथ गुजार है. हालांकि, व्हाइट हाउस ने किताब के ज्यादातर दावों को खारिज कर दिया है.
अन्य किताबें लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack