Tuesday, 22 October 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

जम्मू कश्मीर में सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमला, 5 जवान शहीद; 2 आतंकी ढेर

जम्मू कश्मीर में सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमला, 5 जवान शहीद; 2 आतंकी ढेर जम्मू: कश्मीर के पुलवामा जिले के लेटपोरा में आतंकियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कैंप पर फिदायीन हमला कर दिया. इसमें 5 जवान शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य घायल हो गए. वहीं, सुरक्षाबलों ने 2 आतंकियों को भी ढेर कर दिया. अभी भी कैंप में दोनों ओर से गोलीबारी हो रही है.

रविवार तड़के दो बजे तीन से चार आतंकी भारी गोला बारूद के साथ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 185वीं बटालियन के कैंप में घुस गए और उन्होंने पहले ग्रेनेड दागा और इसके बाद अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी. इससे पहले सीआरपीएफ के तीन जवान घायल हो गए. तीनों घायलों को तुरंत इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवा दिया. तीनों की इलाज के दौरान मौत हो गई. एक जवान बाद में शहीद हुआ. शहीद हुए जवानों में से एक की पहचान श्रीनगर के सैफुदीन सोज के रूप में हुई है.

वहीं, मौके पर सुरक्षाबलों के जवान भी पहुंच गए और उन्होंने आतंकियों का मुंह तोड़ जवाब देना शुरू कर दिया. इस दौरान दो आतंकी भी ढेर हो गए. अभी भी एक से दो आतंकी और होने की सूचना है. आतंकी कैंप में एक इमारत में छुप हुए हैं. दोनों ओर से अभी गोलीबारी जारी है.

सीआरपीएफ के पीआरओ राजेश यादव के अनुसार तड़के दो बजे आतंकी कैंप में घुसपैठ करने पहुंचे. संतरी ने उन्हें रोका लेकिन उन्होंने ग्रेनेड फेंका और फायरिंग कर भीतर घुस गए. इससे तीन जवान घायल हो गए. तीनों ने बाद में दम तोड़ दिया.

वहीं, जम्मू कश्मीर पुलिस के महानिदेशकएसपी वैद का कहना है कि आतंकियों के हमला करने की सूचना दो तीन दिन से थी. रात को दो बजे उन्होंने हमला किया. गौरतलब है कि इस कैंप में आतंकवाद से लड़ने वाले जवानों को प्रशिक्षण भी दिया जाता है.

घटना की जिम्मेदारी जैश-ए-मुहम्मद नाम के आतंकी संगठन ने ली है. पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने कहा कि ऑपरेशन न केवल आतंकियों को मारने के लिए शुरू किया गया था बल्कि उन्हें मुख्य धारा में वापस लाने के लिए भी था.

जम्मू कश्मीर के उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान हताशा में सीमा पार से गोलीबारी करता है, हम उसका जवाब दे रहे हैं.

गौरतलब है कि अगस्त में सीआरपीएफ पर हुए हमले में आठ सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे. आतंकियों ने पुलवामा में एक जिला पुलिस परिसर को निशाना बनाते हुए हमला किया था. हमले में शामिल तीनों आतंकियों को मार गिराया गया था.
अन्य सुरक्षा लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack