मुंबई के कमला मिल्स कंपाउंड में लगी आग, 14 लोगों की मौत, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने जताया शोक

अजय पुंज , Dec 29, 2017, 11:44 am IST
Keywords: Kamala Mills fire   Kamala Mills building fire   Trade House building   Kamala Mills Compound   Kamala Mills Compound fire   Mumbai fire   Trade House building fire   BMC  
फ़ॉन्ट साइज :
मुंबई के कमला मिल्स कंपाउंड में लगी आग, 14 लोगों की मौत, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने जताया शोक मुंबई: देश की कारोबारी नगरी मुंबई में गुरुवार रात कमला मिल्स परिसर भवन में आग लग गई जिसमें कम से कम 14 लोगों के मारे जाने और दर्जनों के घायल होने की खबर है. बताया जा रहा है कि इस परिसर में कई कार्यालय और रेस्तरां हैं.

इस हादसे में लगभग एक दर्जन से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गये हैं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मरने वालों में 11 महिलाएं और 3 पुरुष हैं. ज़्यादातर 22 से 30 साल के लोग हैं. हादसे में 12 से ज़्यादा लोग घायल हुए हैं. केईएम अस्पताल में घायलों को भर्ती कराया गया है, जहां चार की हालत गंभीर बनी हुई है.

सामाजिक कार्यकर्ता मंगेश कालसकर ने इस अगलगी कांड पर बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि मैं इस मामले में कई शिकायतें की और कमला मिल्स परिसर के स्ट्रक्चर पर सवाल उठाया.

खबर है कि परिसर में बने एक रेस्टोरेंट का मालिक प्रख्यात गायक शंकर महादेवन का बेटा है.

इस पर बंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने एक पत्र लिख कर कहा कि इस परिसर में कोई गड़बड़ी नहीं है. वहीं भाजपा नेता किरिट सोमैया ने मांग की है कि इस अगलगी मामले में आपराधिक मामला दर्ज किया जाए.

कमला मिल कंपाउंड के मोजोस लाउंज में हुए हादसे पर पीएम मोदी समेत राष्ट्रपति कोविंद ने दुख जताया है. राष्ट्रपति भवन से ट्वीट कर इस हादसे पर दुख जताते कहा गया है कि मुंबई में आग की तकलीफ़देह ख़बर. पीड़ित परिवारों के साथ मेरी सांत्वना और घायलों के जल्द ठीक होने की कामना है. दमकल कर्मियों और राहत अभियान में लगे लोगों के साहसी प्रयासों की सराहना करता हूं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कमला मिल्स हादसे पर संवेदना प्रकट की है. उन्होंने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि मुंबई हादसे की खबर सुनकर पीड़ा हुई. मेरी संवेदना पीडित परिवार के साथ है. मेरी कामना है कि घायल जल्द से जल्द ठीक हों. महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने हादसे के जांच के आदेश दिये हैं. बीएमसी के कमिशनर इसकी जांच करेंगे.

पुलिस ने इस मामले में गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है. इस केस में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार रात्री 12:30 बजे के बाद आग सबसे पहले मोजो बिस्ट्रो लाउंज में लगी और देखते ही देखते तेजी से फैल गयी.

आग का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि दमकल की 8 गाड़ियां और 6 वाटर टैंकर को आग बुझाने में करीब 2 घंटे का वक्त लगा.

आग पर काबू पाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी. बचाव दल ने इमारत की बिजली काटकर इमारत में मौजूद 20 से भी ज्यादा गैस सिलेंडर को बाहर निकाला.

घायलों को किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल और केईएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अस्पताल के डीन ने 14 लोगों की मौत की पुष्टि की है. बताया जा रहा है कि मरनेवालों का आंकड़ा बढ़ सकता है.

यहां उल्लेख कर दें कि कमला मिल्स परिसर से कई समाचार चैनल भी संचालित होते हैं. आग से उनके उपकरणों को नुकसान न हो इस लिए उन्होंने अपने ब्रॉडकास्ट को भी फौरन बंद करने का काम पहले किया.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कमला मिल्स कंपाउंड के मालिक पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है और पुलिस ये जानने में जुट गई है कि आग लगने की असली वजह क्या थी. बताया जा रहा है कि कंपाउंड में स्थित पब में आग लगी और उसके बाद वो फैलती गई.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि अभी आग के कारणों का पता नहीं चला है. उन्होंने कहा हमने जांच शुरू कर दी है. जांच के बाद ही कुछ पता चल पाएगा.

बताया जा रहा है कि खुशबू नाम की एक लड़की की बर्थडे पार्टी के दौरान अचानक पब में आग लग गई, जिससे ये हादसा हुआ.

आग इतनी तेजी से फैली की वहां मौजूद लोगों को भागने का मौका तक नहीं मिल सका. पुलिस की जांच में पता चला है कि बिल्डिंग में फायर एक्जिट और इमरजेंसी गेट तक बंद थे वहीं आग से बचाव के लिए बिल्डिंग में कहीं भी अग्निशमन यंत्र मौजूद ही नहीं थे. आग के दौरान रेस्टोरेंट में फंसे लोग बचने के लिए वॉशरूम में छुप गए  लेकिन फिर भी नहीं बच पाए.
अन्य हादसा लेख
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack