Thursday, 20 September 2018  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

अंधी रहस्यवादी बाबा वांगाः मंगल से हमला, समय की गति से यात्रा, पृथ्वी का अंत और अन्य भविष्यवाणियां

अंधी रहस्यवादी बाबा वांगाः मंगल से हमला, समय की गति से यात्रा, पृथ्वी का अंत और अन्य भविष्यवाणियां लंदनः उसके समर्थकों का मानना है कि बुल्गारिया की भविष्यवक्ता बाबा वेन्गा की भविष्यवाणियां सच साबित होती हैं। उन्होंने फ्रांस और अमेरिका में हुई आंतकी घटनाओं की भविष्यवाणी की थी जो सच साबित हुईं। बुल्गारिया की भविष्यवक्ता बाबा वेन्गा ने 9/11 आतंकी हमले से लेकर सुनामी, फुकुशिमा हादसे और आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठनों के बारे में भी भविष्यवाणियां की थीं, जो सच साबित हुईं। बाबा वेन्गा ने 2016 में यूरोप पर मुस्लिम आतंकियों के हमले की भविष्यवाणी भी की थी। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी बताया था कि 2010 में मिडल ईस्ट में संघर्ष शुरू हो जाएंगे।

साल 2018 के लिए भविष्यवाणी
बाबा वेन्गा की मृत्यु हो चुकी है, लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि उन्होंने मरने से पहले साल 2018 में भी दो बड़े घटनाक्रमों के बारे में भविष्यवाणी की है। बाबा वेन्गा की मृत्यु 1996 में 85 वर्ष की उम्र में हो चुकी है। बाबा वेन्गा के पास सुपरनेचुरल शक्तियां थीं और वो दुनिया पर आने वाले प्राकृतिक तथा मानवजनित आपदाओं को भांप लेती थीं। एक रिपोर्ट के मुताबिक बाबा बेन्गा ने भविष्यवाणी की थी की साल 2018 तक चीन अमेरिका को पीछे छोड़ दुनिया की महाशक्ति बन जाएगा।

चीन बनेगा नया सुपर पॉवर, शुक्र ग्रह पर नई ऊर्जा
उन्होंने यह भी भविष्यवाणी की थी कि शुक्र ग्रह (वीनस) पर एक नई तरह की ऊर्जा की खोज होगी। बाबा वेन्गा की भविष्यवाणियों पर विश्वास करने वाले कह रहे हैं कि उनकी 2018 के लिए कही गई बातें भी सच साबित होंगी।

गौरतलब है कि साल 1970 में चीन दुनिया की इकॉनमी में 4.1 प्रतिशत की हिस्सेदारी रखता था। साल 2015 तक यह हिस्सेदारी 15.6 प्रतिशत पर पहुंच गई और उसके बाद से लगातार इसमें वृद्धि दर्ज की गई है। वहीं, अमेरिका दुनिया की इकॉनमी में 16.7 प्रतिशत के साथ शीर्ष हिस्सेदार है और फोर्ब्स की रिपोर्ट के मुताबिक 2025 तक उसकी हिस्सेदारी घटकर 14.9 प्रतिशत पर आ सकती है।

हालांकि, साल 2018 में शुक्र ग्रह पर नई तरह की ऊर्जा की खोज के बारे में की गई बाबा वेन्गा की दूसरी भविष्यवाणी के सच साबित होने की संभावना नहीं है, क्योंकि इस साल किसी भी बड़े देश का शुक्र ग्रह के लिए कोई मिशन नहीं है। पार्कर सोलर प्रोब अगले साल एक मिशन लांच जरूर करने वाला है, लेकिन यह वीनस के लिए नहीं होगा।

कौन थीं बाबा बेन्गा
बाबा वेन्गा बुल्गारिया में जन्मी ब्लाइंड भविष्यवक्ता थीं। वे ‘नास्त्रेदमस फ्रॉम द बाल्कन’ के नाम से मशहूर हैं। रूस और यूरोप में काफी लंबे समय तक उन्हें एक संत के तौर पर सम्मानित किया गया। 1996 में उनकी 85 साल की उम्र में मौत हो गई। वेन्गा ने 50 साल में करीब 100 भविष्यवाणियां कीं, जिनमें से ज्यादातर सच साबित हुईं। इनकी कई भविष्यवाणियां क्लाइमेट और नेचुरल डिजास्टर से संबंधित थीं।

ये भविष्यवाणियां हुईं सच

ग्लोबल वॉर्मिंग और 2004 सुनामी (1950 की भविष्यवाणी)
बाबा वेन्गा की भविष्यवाणी के मुताबिक, ठंडे इलाके गर्म हो जाएंगे और ज्वालामुखी सक्रिय हो जाएंगे। विशाल लहरें समुद्र तट के साथ ही कस्बे और लोगों के एक बड़े हिस्से को खुद में समेट लेंगी और सब कुछ पानी प्रवाह में गायब हो जाएगा। सब कुछ बर्फ की तरह पानी में मिल जाएगा।

2000 में रशियन न्यूक्लियर सबमरीन क्रस्क के डूबने की घटना (1980 की भविष्यवाणी)
बाबा वेन्गा की  भविष्यवाणी के अनुसार 2000 में ही न्यू्क्लियर सबमरीन क्रस्क पानी में समा गई। इंटरनेशनल रेस्क्यू कर्मचारियों ने कई दिनों तक समुद्र की गहराई से पोत को बाहर निकालने की नाकाम कोशिश करते हुए मौत को गले लगा लिया।

11 सितंबर 2001, वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर आतंकी हमला (1989 की भविष्यवाणी)
इस भविष्यवाणी के मुताबिक, अमेरिकी जुड़वा भाईयों पर स्टील बर्ड्स हमला करेंगी, जिसमें निर्दोष लोगों का खून बहेगा। यह भविष्यवाणी सच साबित हुई और वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (ट्विन टॉवर) पर दो हाइजैक विमानों से आतंकवादियों ने हमला किया।

बाबा वेन्गा की बाकी भविष्यवाणियां सच साबित हुईं

1) अमेरिका का 44वां राष्ट्रपति अफ्रीकी-अमेरिकी होगा और बराक ओबामा अमेरिकी राष्ट्रपति बने।

2) सेकंड वर्ल्ड वॉर की शुरुआत और इसके नतीजे।

3) जार बोरिस-3 (1918-1943 तक बुल्गारिया के किंग) की मौत की तारीख।

4) चेकोस्लोवाकिया का अलग होना।

5) लेबनान में दंगे (1968)।

6) निकारागुआ में युद्ध (1979)।

7) साइप्रस विवाद (1974)।

8) इंदिरा गांधी का पीएम बनना और उनकी हत्या।

9) सोवियत यूनियन का विघटन।

10) यूगोस्लोवाकिया का अलग होना।

11) पूर्वी और पश्चिमी जर्मनी का एक साथ मिलना।

12) चेर्नोबल में न्यूक्लियर हादसा।

13) स्टालिन की मौत की तारीख।

14) सीरिया में सिविल वॉर।

15) क्रीमिया का अलग होना।

2016 और उसके बाद की भविष्यवाणियां
  1. 2016- मुस्लिम यूरोप पर हमला करेंगे और इसका अस्तित्व ही खत्म हो जाएगा।
  2. विनाश का ये अभियान कई सालों तक चलेगा और पूरा योरोप महाद्वीप तकरीबन खाली हो जाएगा।
  3. 2023- धरती की कक्षा में बदलाव आएगा।
  4. 2025- यूरोप की आबादी करीब-करीब शून्य हो जाएगी।
  5.  2028- ऊर्जा के नए स्रोत की तलाश में इंसान शुक्र पर पहुंचेगा।
  6. 2043- यूरोप में पूरी तरह से इस्लामिक खिलाफत कायम हो जाएगी। दुनिया की अर्थव्यवस्था मुस्लिम शासन के अधीन होगी।
  7. 2033 से 2045 के बीच दोनों ध्रुवों की बर्फ पिघल जाएगी और मुसलमानों का योरोप पर कब्जा हो जाएगा.
  8. क्लोनिंग के बूते डॉक्टर्स हर तरह के रोगों पर पार पा लेंगे. शरीर से रोगों को भगाना जादू के करतब से भी आसान होगा.
  9. अमेरिका मुस्लिम शासित रोम पर पर्यावरण आधारित हथियारों से हमला करेगा, जो इनसान को तुरंत बर्फ में तब्दील कर देंगे.
  10. साल 2072 और 2086 के बीच एक वर्गविहीन साम्यवादी शासन की स्थापना हो जाएगी, जो प्रकृति संरक्षित व्यवस्था पर बल देगा.  
  11. साल 2170 से 2256 के बीच बहुत कुछ घटेगा, जिसमें मंगल पर बसे धरतीवासी परमाणु हथियारों से युकत हो जायेंगे और धरती से आजादी की मांग करेंगे.
  12. इसी दौरान पानी के अंदर शहरों का निर्माण होगा, और दूसरे लोक के निवासियों की खोज में कुछ बेहद भयावह चीजों के दर्शन होंगे.
  13. साल 2262 से 2304 के बीच किसी भी समय, समय की गति को पकड़ लिया जाएगा. इस बीच फ्रांसीसी गुरिल्ला फ्रांस के मुस्लिम शासकों से युद्ध करेंगे.
  14. चंद्रमा के रहस्य भी तब तक उजागर हो चुके होंगे.
  15. साल 2341 से धरती के खत्म होने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. इनसान निर्मित आपदा हमारी घरेलू धरती को निर्जन बना देगी. इनसान सौर मंडल के दूसरे ग्रहों की तरफ रूख करेगा पर लेकिन संसाधन सीमित और दुर्लभ हो जाएंगे, जिसके परिणामस्वरूप भयानक युद्ध होंगे.
  16. साल 3815 से 3878 के बीच मानवीय सभ्यता पूरी तरह नष्ट हो जाएगी और लोग जानवरों की तरह रहने लगेंगे, जब तक कि एक नया धर्म हमें अंधेरे से बाहर निकालने के लिए नहीं उदित हो जाएगा.
  17. साल 4302 से 4674 तक बुराई और नफरत की अवधारणाओं का सफाया कर दिया जाएगा, मनुष्य अमर और एलियंस के साथ आत्मसात हो चुका होगा.
  18.  उस दौर में ब्रह्मांड में फैल चुके सभी 340 अरब लोग ईश्वर से तब बात कर सकेंगे
  19. और साल 5079 में इस ब्रह्मांड का अंत हो सकता है.
अन्य समाज लेख
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack