Monday, 18 December 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

राम मंदिर का चुनावों से क्या लेना देनाः गुजरात की रैली में प्रधानमंत्री मोदी का कांग्रेस पर निशाना

राम मंदिर का चुनावों से क्या लेना देनाः गुजरात की रैली में प्रधानमंत्री मोदी का कांग्रेस पर निशाना धंधुका: गुजरात विधानसभा चुनाव को मजहब केंद्रित करने का कोई मौका भारतीय जनता पार्टी छोड़ना नहीं चाहती. राहुल गांधी के धर्म पर विवाद के बाद अब अयोध्या मसले की भी गुजरात के विधानसभा चुनाव में एंट्री हो गई है. बुधवार को अहमदाबाद के धांधुका में चुनावी रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मसले पर कांग्रेस को निशाने पर लिया.

प्रधानमंत्री मोदी ने सुप्रीम कोर्ट में सुन्नी वक्फ बोर्ड की ओर से कपिल सिब्बल द्वारा अयोध्या मसले पर सुनवाई टालने की मांग पर तीखा हमला बोला.

नरेंद्र मोदी ने कहा, ' मुझे इस बात पर कोई आपत्ति नहीं है कि कपिल सिब्बल मुस्लिम समुदाय की तरफ से लड़ रहे हैं, पर वह यह कैसे कह सकते हैं कि अगले चुनाव तक अयोध्या मामले का कोई हल नहीं होना चाहिए? इसका संबंध लोकसभा चुनाव से कैसे है?'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आखिर 2019 में चुनाव कांग्रेस लड़ेगी या फिर सुन्नी वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा. उन्होंने कहा, 'यह साफ है कि मैं तीन तलाक के मुद्दे पर चुप नहीं रहूंगा. हर चीज चुनाव के बारे में नहीं होती. यह मुद्दा महिलाओं के अधिकारों का है. चुनाव इंसानियत के बाद आता है.'

राहुल गांधी के मंदिर दर्शन पर तंज करते हुए कहा कि मंदिर जाने से गुजरात में बिजली नहीं आई. साथ ही उन्होंने विपक्ष पर तीखा प्रहार करते हुए तीन तलाक मामले पर कहा कि मैं चुनाव के लिए फैसले नहीं लेता.

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गुजरात के 33 जिलों में चुनाव प्रचार की कमान थामे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अहमदाबाद के धंधुका में थे. यहां उन्होंने बाबासाहेब अंबेडकर की पुण्यतिथि के मौके पर उन्हें याद किया. इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस को लपेटे में लेकर कहा कि एक परिवार के लिए अंबेडकर और सरदार पटेल के साथ नाइंसाफी हुई.

नरेंद्र मोदी ने आगे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के सॉफ्ट हिंदुत्व फैक्टर पर धावा बोलते हुए कहा, 'मंदिर-मंदिर जाने से गुजरात में बिजली नहीं आई. मैं इतने सालों से माला नहीं जप रहा था बल्कि काम कर रहा था.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर अपना प्रहार जारी रखा और अयोध्या विवाद पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के बयान पर कहा कि मुझे इस पर कोई आपत्ति नहीं है कि कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल अयोध्या विवाद में मुस्लिम समुदाय की ओर से पैरवी कर रहे हैं. लेकिन वह कैसे सुप्रीम कोर्ट से कह सकते हैं कि अगले चुनाव तक इसका हल ना निकालें. इस मुद्दे का लोकसभा चुनाव से भला कैसे कोई कनेक्शन है?

वहीं तीन तलाक मामले पर नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब तीन तलाक का मामला सुप्रीम कोर्ट में था, सरकार को अपना हलफनामा दाखिल करना था, अखबारों में आया कि यूपी चुनाव को देखते हुए मोदी इस मुद्दे पर शांत रहेंगे. लोगों ने मुझे इस मुद्दे पर न बोलने की राय दी.

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि यह साफ है कि मैं तीन तलाक के मुद्दे पर मैं चुप नहीं रहूंगा. हर चीज चुनाव के बारे में नहीं होती. यह मुद्दा महिलाओं के अधिकारों का है. चुनाव इंसानियत के बाद आता है. रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात के किसानों को राहत देते बड़ा ऐलान किया कि किसानों के कर्ज का ब्याज सरकार देगी.
अन्य चुनाव लेख
वोट दें

दिल्ली प्रदूषण से बेहाल है, क्या इसके लिए केवल सरकार जिम्मेदार है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
 
stack