Monday, 18 December 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

मेरा परिवार शिवभक्त, हम धर्म की दलाली नहीं करतेः राहुल गांधी

मेरा परिवार शिवभक्त, हम धर्म की दलाली नहीं करतेः राहुल गांधी अमरेलीः सोमनाथ मंदिर के रजिस्टर में कथित तौर पर गैर हिंदुओं के लिए निर्धारित रजिस्टर में नाम लिखने से उपजे विवाद के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इशारों में भाजपा पर हमला किया है। गुरुवार को गुजरात के अमरेली में कारोबारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि धर्म को लेकर हमें किसी के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है। हम धर्म की दलाली नहीं करते हैं। मेरी दादी और मेरा परिवार शिवभक्त हैं। हम धर्म का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे के लिए नहीं करते हैं। राहुल ने कहा कि धर्म निजी चीज है। हम धर्म का व्यापार नहीं करते हैं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि सोमनाथ मंदिर की एक आगंतुक पुस्तिका में मैंने दस्तखत किए थे। लेकिन, इसके बाद दूसरे रजिस्टर में भाजपा के लोगों ने मेरा नाम लिख दिया। सरदार वल्लभभाई पटेल और जवाहरलाल नेहरू के संबंधों के बारे में राहुल ने कहा कि कुछ राजनीतिक और वैचारिक मतभेदों के बावजूद दोनों मित्र थे। दोनों साथ-साथ जेल गए थे। लेकिन, इसके बावजूद यहां कुछ लोग झूठ फैला रहे हैं कि दोनों में दुश्मनी थी।

राहुल ने सीएम विजय रूपाणी को रिमोट से चलने वाला सीएम बताया। उन्होंने कहा कि गुजरात में सभी समाज आंदोलन कर रहे हैं। सिर्फ पांच-दस इंडस्ट्रीयलिस्ट को ऐसा नहीं करना पड़ता। इंडस्ट्रीयलिस्ट मांगें तो उन्हें जमीन-पानी-बिजली सब तुरंत मिल जाता है। पहले मोदी देते थे अब अमित शाह। रूपाणी का नाम नहीं लूंगा क्योंकि वह तो रिमोट कंट्रोल से चलते हैं। शाह पर कटाक्ष किया कि वह जब चाहे चैनल बदल देते हैं।

इस बीच, गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी ने कहा है कि राहुल गांधी की सोमनाथ यात्रा को लेकर विवाद के पीछे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह हो सकते हैं। सोलंकी ने कहा कि शाह सोमनाथ मंदिर के ट्रस्टी हैं और आपको पता ही है कि वे क्या कुछ करने में सक्षम हैं। वे इस स्तर तक आ गए हैं कि अब हमें गैर हिंदू साबित करना चाह रहे हैं। हालांकि, भाजपा ने सोलंकी के आरोपों का खंडन किया है।

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने जवाब में गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असली हिंदू नहीं हैं। इन लोगों ने हिंदू धर्म को भूल कर हिंदुत्व को अपना लिया है। सिब्बल ने पूछा कि पीएम खुद कितनी बार मंदिर जाते हैं? उन्होंने हिंदू धर्म को छोड़कर हिंदुत्व को अपना लिया है, जिसका हिंदू धर्म से कोई लेना-देना नहीं है। जो हर भारतीय को अपना भाई-बहन समझता है, वही असली हिंदू है।

सिब्बल के बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा ने कहा कि जनता को पता है कि कौन राम भक्त है और कौन रोम भक्त? भाजपा का तंज कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के इतालवी मूल को लेकर था। भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हाराव ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने 2007 में सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि भगवान राम का अस्तित्व नहीं है। इसके अलावा कांग्रेस हिंदुओं को आतंकवादी तक बता चुकी है।

इस बीच भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्रा ने राहुल गांधी के गुजरात में सोमनाथ व अन्य मंदिरों में दर्शन पूजन के सवाल पर कहा कि दर्शन पूजन करना अच्छी बात है दर्शन पूजन करना चाहिए। हम तो कह रहे हैं आप काशी विश्वनाथ के दर्शन करिये, मां दुर्गा के दर्शन करिए। साथ ही उन्होंने भाजपा और दूसरे नेताओं द्वारा राहुल गाधी के गैर हिंदू होने के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा की नेहरू का परिवार गैर हिंदू कैसे हो सकता मैं इस बात को कत्तई नहीं मनाता।
अन्य राज्य लेख
Niva Ply, Plywood for Generations
वोट दें

दिल्ली प्रदूषण से बेहाल है, क्या इसके लिए केवल सरकार जिम्मेदार है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
 
stack