Monday, 18 December 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

श्रमिक नेता स्व. संतोष कुमार टप्नो की जन्मदिन विशेष: उनका परिवार दरिद्रता में गुजार रहा जीवन

राजु मिश्रा , Nov 22, 2017, 20:48 pm IST
Keywords: Assam   Moran   Moranhaat   Assam state news   Assam News   मोरान   असम   असम समाचार   असम मोरानहाट   मोरान शहर  
फ़ॉन्ट साइज :
श्रमिक नेता स्व. संतोष कुमार टप्नो की जन्मदिन विशेष: उनका परिवार दरिद्रता में गुजार रहा जीवन मोरानहाट :  समाज हितैषी, श्रमिक नेता तथा असम चाय जनजाती छात्र संस्था ( आटसा ) के प्रतिष्ठापक सचिव स्व. संतोष कुमार टप्नो से राजनीति सिख चाय जनगोष्ठी के बड़े बड़े नेता, विधायक, मंत्री बन चुके पवन सिंह घटवार, पृथ्वी मांझी, पल्लव लोचन दास आदि ने कभी भी टप्नो के घर परिवार के प्रति जरा सी भी सहानुभूति तक नहीं दिखाई.

मोरान राईडांग बरपथार गांव स्थित स्व. टप्नो के घर पहुंच जायजा लेने पर परिवार के लोगों से पता चले कि इन बड़े बड़े चाय जनगोष्ठी के नेताओं को टप्नो ने एक सिढ़ी प्रदान कि जिससे ये नेता राजनीति जगत में आगे तो बढ़ते गये मगर कभी पलट कर नहीं देखा. 

टप्नो के परिवार में उनकी पत्नी अपने छोटी अविवाहित पुत्री के साथ दिरैई चाय बागान में रहती है । दो पुत्र अपने परिवार के साथ एक अविवाहित चाचा के साथ बरपथार के जर्जर घर में रहते है जिस व्यक्ति ने असमिया समाज के साथ ही चाय जनगोष्ठी के विकास और समाज के विकास में पुरा जिवन गंवा दिया उसका परिवार आज गरीबी रेखा के नीचे रहने को मजबुर है.

बारह लोगों का परिवार खेतीबाड़ी कर किसी तरह गुजर बसर कर रहा है ऐसे में परिवर्तन का दावा करनेवाले सर्वानंद सोनोवाल नेतृत्व वाली सरकार ने टप्नो के छोटे बेटे दयाल टप्नो को एक सरकारी नौकरी देने के साथ ही गृह निर्माण हेतु पांच लाख रुपये के आर्थिक अनुदान की घोषणा की है.

राज्य सरकार की नवगठित श्रमिक कल्याण विभाग तथा डिब्रूगढ़ जिला प्रशासन ने 23 नवम्बर को उनके जन्मदिन के अवसर पर डिब्रूगढ़ के मानकटा चाय बागान खेल मैदान में श्रमिक कल्याण दिवस के आयोजन की तैयारी की है प्रति वर्ष टप्नो के जन्मदिन को श्रमिक कल्याण दिवस के रुप में मनाए जाने की मंशा राज्य सरकार ने बनाई है.

इस वृहद कार्यक्रम में स्वयं मुख्यमंत्री श्री सोनोवाल उपस्थित होगें तथा टप्नों के परिवार को भी सभा में आमंत्रित किया गया है सोनोवाल सरकार के इस प्रयास की सराहना करते हुए टप्नो परिवार ने घर को पुरा बनवाने का आहवान किया है जो कि पांच लाख रुपयों में संभव नहीं आटसा माहमारा आंचलिक समिति के अध्यक्ष अरुण कुर्मी ने भी सर्वानंद सरकार की प्रशंसा करते हुए टप्नो परिवार की जिम्मेदारी लेने तथा घर का निर्माण पुरा करवाने की मांग की.
अन्य शहर लेख
वोट दें

दिल्ली प्रदूषण से बेहाल है, क्या इसके लिए केवल सरकार जिम्मेदार है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
 
stack