फिल्म 'पद्मावती' विवादः दीपिका पादुकोण का सिर क़लम करने वालों को देंगे 10 करोड़

जनता जनार्दन डेस्क , Nov 19, 2017, 21:58 pm IST
Keywords: Padmavati   Deepika Padukone   Padmavati Director   Sanjay Leela Bhansali   Film Padmavati   Padmavati row   Padmavati dispute   Padmavati story   Padmavati history   फिल्म 'पद्मावती' विवाद   दीपिका पादुकोण  
फ़ॉन्ट साइज :
फिल्म 'पद्मावती' विवादः  दीपिका पादुकोण का सिर क़लम करने वालों को देंगे 10 करोड़ नई दिल्ली: भारी विरोध, तोड़फोड़, कुछ राज्य सरकारों की लाचारी और राजपूत संगठनों की खुलेआम धमकी के बीच फिल्म 'पद्मावती' की रिलीज़ को एक दिसंबर से टाल दिया गया है, लेकिन विरोध का स्वर अब और तीखा और सांप्रदायिक हो चला है. अपने पार्टी पदाधिकारियों के निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हैं.

हरियाणा में बीजेपी के प्रदेश मुख्य मीडिया संयोजक सूरज पाल अम्मू ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि अब तो बोलना पड़ेगा.

सूरज पाल ने साफ शब्दों में कहा कि अगर उन्हें पार्टी से जाना पड़ेगा वो सज़ा भी मंजूर होगी, लेकिन फिल्म की रिलीज़ को बर्दाशत नहीं करेंगे.

उन्होंने पीएम मोदी को निशाने पर लेते हुए कहा, “वोट लेने के लिए राजपूत, मुसलमानों की ऐसी तैसी करनी हो तो राजपूत और वोट लेने के बाद अपमान कराने के लिए राजपूत. बोलना तो पड़ेगा मोदी जी, बोलना तो पड़ेगा.”

उन्होंने आगे कहा, “गुजरात का चुनाव है. हम आपको वोट दिलाना चाहते हैं. आप पद्मवाती को रिलीज़ नहीं होने दें.”

सूरज पाल ने खुलेआम कहा कि वो मेरठ के उस जवान का धन्यवाद करना चाहते हैं जिसने दीपिका पादुकोण की सिर पर 5 करोड़ का इनाम घोषित किया. उन्होंने कहा, “हम सिर कलम करने वाले को 10 करोड़ देंगे और उसके परिवार की जरूरतों का भी खयाल रखेंगे.”

अपनी धमकी को जारी रखते हुए सूरज पाल ने कहा कि अगर रणवीर सिंह ने अपने शब्द वापस नहीं लिए तो उसकी टांग तोड़कर हाथ में दे देंगे.

दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मोर्य ने कहा कि जब तक फिल्म से आपत्तिजनक सीन हटा नहीं दिए जाते, वो उत्तर प्रदेश में रिलीज़ की अनुमति नहीं देंगे.

करणी सेना भी अपनी मांग पर अड़ी है और उसका साफ कहना है कि किसी कीमत पर वो फिल्म को रिलीज़ नहीं होने देंगे. करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र सिंह का कहना है कि इस फिल्म में मिडिल ईस्ट और दाऊद इब्राहिम का पैसा लगा है.
अन्य फिल्म लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack