Friday, 24 November 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

राष्‍ट्रपति ने बच्‍चों के साथ बाल दिवस मनाया, दिया राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार

राष्‍ट्रपति ने बच्‍चों के साथ बाल दिवस मनाया, दिया राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार नई दिल्लीः राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज कहा कि बच्‍चे देश का भविष्‍य हैं और हमें उनके कल्‍याण के लिए प्रयास करने चाहिए। राष्‍ट्रपति ने कहा कि हमें हर संभव प्रयास करना चाहिए कि हमारे देश के बच्‍चों को सुरक्षित और खुशहाल बचपन मिले। प्रत्‍येक बच्‍चा वह कली है जो खिलने का इंतजार करती है।

राष्‍ट्रपति ने बाल दिवस के अवसर पर राष्‍ट्रपति भवन में बच्‍चों को राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार प्रदान किए। इस अवसर पर महिला और बाल विकास मंत्रालय को भेजे गए संदेश में राष्‍ट्रपति ने कहा कि बच्‍चों को पुरस्‍कृत कर हम उनकी प्रतिभा और राष्‍ट्र निर्माण में उनके योगदान की संभावना को पहचानते हैं और उन्‍हें प्रोत्‍साहित करते हैं। हमें बच्‍चों से जुड़े कल्‍याण के कार्य करने वाले व्‍यक्तियों और संस्‍थानों के महत्‍वपूर्ण योगदान को भी मान्‍यता देनी चाहिए।

बाद में राष्‍ट्रपति ने विभिन्‍न स्‍कूलों/संस्‍थानों से आए छात्रों/बच्‍चों के साथ राष्‍ट्रपति भवन में बाल दिवस मनाया।

राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कारों में असाधारण उप‍लब्धि के लिए राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार शामिल हैं जो शिक्षा, संस्‍कृति, कला, खेल, संगीत आदि के क्षेत्र में असाधारण क्षमता वाले बच्‍चों को पहचान प्रदान करने के लिए दिए जाते हैं; बाल कल्‍याण के क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने के लिए संस्‍थानों और व्‍यक्तियों को बाल कल्‍याण के लिए राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार; और बच्‍चों की सेवा के लिए उत्‍कृष्‍ट योगदान देने के लिए व्‍यक्तियों को राजीव गांधी मानव सेवा पुरस्‍कार प्रदान किया जाता है।
अन्य समाज लेख
वोट दें

दिल्ली प्रदूषण से बेहाल है, क्या इसके लिए केवल सरकार जिम्मेदार है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack