Wednesday, 11 December 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

आज 'नृत्य साम्राज्ञी' सितारा देवी का जन्मदिन, गूगल पर चमक रहा उनका डूडल

जनता जनार्दन संवाददाता , Nov 08, 2017, 10:36 am IST
Keywords: Sitara Devi   Kathak dancer   Sitara Devi birthday   Sitara Devi dance   Sitara Devi life   कथक क्वीन   सितारा देवी   गूगल डूडल   कथक नृत्यांगना   Nritya Samragini   Who is Sitara Devi   Kathak queen   
फ़ॉन्ट साइज :
आज 'नृत्य साम्राज्ञी' सितारा देवी का जन्मदिन, गूगल पर चमक रहा उनका डूडल नई दिल्ली: सर्च इंजन गूगल भारतीयों को मोहने का कोई उपाय नहीं छोड़ता. आज जब 8 नवंबर को दुनिया भर में 'कथक क्वीन' के नाम से प्रसिद्ध सितारा देवी का जन्मदिन है, तो गूगल ने भी उनके सम्मान में डूडल बना कर भारतीयों के प्रति अपना प्यार तो जताया ही है, इसके जरिए भारतीय संस्कृति और कला का भी सम्मान हो रहा है.

गूगल ने आज गूगल इंडिया के होमपेज पर 'डूडल' बनाकर सितारा देवी के 97वें जन्मदिवस पर उनको सम्मान दिया है. कथक नृत्यांगना के रूप में विख्यात सितारा देवी का चेहरा और नृत्य आंखों के सामने आ जाता है. सितारा देवी ने अपनी कला के माध्यम से सफलता का जो शिखर हासिल किया था, वहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत संघर्ष भी किया है. महज 16 साल की उम्र में उनका नृत्य देखकर गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर ने उन्हें 'कथक क्वीन' के खिताब से नवाजा था.

सितारा देवी को कला और नृत्य के प्रति उनके विशेष योगदान के लिए 'पद्मश्री' (1970) और 'कालिदास सम्मान' (1994) से भी सम्मानित किया गया है. सितारा देवी के नृत्य निपुणता की हनक इतनी थी कि बॉलीवुड भी उनके सामने नतमस्तक हुआ. कई बॉलीवुड फिल्मों की हिरोइनों को सितारा देवी ने नृत्य के गुर भी सिखाए ताकि उनकी अदाकारी में और निखार आए. इन अभिनेत्रियों में रेखा, मधुबाला, माला सिन्‍हा और काजोल जैसी एक्‍ट्रेस के नाम शामिल हैं.

बता दें कि उनका जन्‍म 8 नवंबर, 1920 को कोलकाता में हुआ था. जन्‍म के कुछ दिनों बाद उनके माता-पिता ने उन्‍हें नौकरानी को दे दिया था, क्‍योंकि उनका मुंह थोड़ा टेढ़ा था. इसके बाद नौकरानी ने बचपन में सितारा देवी की खूब सेवा करके उनका मुंह ठीक कर वापस उनके माता-पिता को लौटा दिया. इनके घर में लोग इन्हें धनतेरस को पैदा होने की वजह से धन्नो कहकर बुलाते थे.
अन्य चर्चित कलाकार लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख
 
stack