Friday, 24 November 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

सैनिक पुर्नमिलन समारोह में पहुंचे राज्य मंत्री अनिल राजभर,लिया विभिन्न कार्यकर्मो में हिस्सा

सैनिक पुर्नमिलन समारोह में पहुंचे राज्य मंत्री अनिल राजभर,लिया विभिन्न  कार्यकर्मो में हिस्सा चन्दौली: राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सैनिक कल्याण, खाद्य प्रसंस्करण, होमगाडर््स, प्रान्तीय रक्षक दल, नागरिक सुरक्षा, उत्तर प्रदेश अनिल राजभर जी द्वारा नवीन मण्डी में पूर्व सैनिक पुर्नमिलन समारोह में द्वितीय विश्व युद्ध पूर्व सैनिक और उनके विधवाओं को राज्य सरकार द्वारा आर्थिक अनुदान प्रदान किया गया.

गोवा युद्ध 1961 में अपने प्राणो की बलीदान दिये स्व0 श्री वेचन सिंह के तैलचित पर माल्यापर्ण कर नमन किया नवीन मण्डी में पूर्व सैनिक पुर्नमिलन समारोह में लोगो से कहा कि हम इस समय निर्भिक होकर घुम रहे है इनका यही कारण जो जवान सीमा पर तैनात रहकर अपने जान की बाजी लगाकर हमे और आपको चैन की सास जीने देते है। कहा कि हम उनके बलिदानों को हमेशा याद करगे उनके परिवार के उत्थान को लेकर समुचित व्यवस्था प्रदेश सरकार द्वारा किया जा रहा है.

और आगे भी उनके विकास के लिए सरकार कदम से कदम मिलाकर चल रही है कहा कि हमारे देश के जवान हमारे देश की सेवा में 24 घण्टे तत्पर रहते है उनको यदि कुछ हो जाय तो उनके परिवार की जिम्मेदारी सरकार द्वारा दिये जाने वाले लाभ को उससे लाभान्वित किया जाय सरकार की यही मंशा है.

सरकार के मंशा पर खरे उतरने के निर्देश सैनिक कल्याण अधिकारी को दिये। मां0 मंत्री जी ने कहा कि जनपद के धानापुर में हुये शहीद लोगों की पहचान पूरे प्रदेश में हो इसके लिए हम निरन्तर प्रयास कर रहे है। उस दौरान मां0 राष्ट्रपति जी द्वारा सम्मानित खोनपुर निवासी मुन्नी कोच कुश्ती में 48 किग्रा0 भार वाले को भी मां0 मंत्री जी द्वारा सम्मानित किया गया.
 

जिलाधिकारी श्री हेमन्त कुमार ने लोगो से कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं को पात्र लोगों तक पहुचाने का संकल्प लिया इस पर विभागीय अधिकारी निरन्तर कार्य कर रहंे है यदि किसी को किसी प्रकार की परेशानी हो तो हमे अवगत कराये ताकि समुचित न्याय दिलाया जा सके.

कार्यक्रम के दौरान चकिया विधायक मां0 शारदा प्रसाद, पुलिस अधीक्षक सन्तोष कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी ए0के0सिंह चन्द्रौल सहित विभागीय अधिकारी व भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थें
अन्य गांव-गिरांव लेख
वोट दें

दिल्ली प्रदूषण से बेहाल है, क्या इसके लिए केवल सरकार जिम्मेदार है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख
 
stack