Happy Diwali
Friday, 20 October 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

टिंगखांग में चोरी की गाय लदा वाहन को लोगों ने पकड़ा,पुलिस पर मिलीभगत का लोगों ने लगाया आरोप

राजु मिश्रा , Oct 12, 2017, 9:45 am IST
Keywords: Assam   Moran   Moranhaat   Assam state news   Assam News   मोरान   असम   असम समाचार   असम मोरानहाट   मोरान शहर  
फ़ॉन्ट साइज :
टिंगखांग में चोरी की गाय लदा वाहन को लोगों ने पकड़ा,पुलिस पर मिलीभगत का लोगों ने लगाया आरोप
मोरानहाट: उपरी असम में वर्षो से पशु चोर गिरोह सक्रिय है तथा आसानी से अपना अबैध कारोबार करते रहे है पुलिस से मिलीभगत रख पशु तस्कर वाहनों के जरिए क्षेत्र के गाय बैलों कों नगांव के डबका, होजाई तथा पड़ोसी देश बंगलादेश तक आसानी से बेचने में सफल रहते है.

डिब्रूगढ़ जिले के टिंगखांग थानातंर्गत धमन केंन्दुगुड़ी के लोगों ने आज चोरी की गाय लदी डीआई वाहन ए एस 02 बीसी 1109 को धर दबोचा आरोपों के अनुसार टिंगखांग पुलिस ने चंद रुपये लेकर उक्त वाहन को जाने दिया था बगैर अनुज्ञापत्र, चालान आदि के नाहरकटिया से नगांव ले जाई जा रहे उक्त मवेशियों की कोई कागजात न पाकर ग्रामीणों परिस्नेथिति तनावपूर्ण बनाते हुए टिंगखांग पुलिस को सुचना दी.

गौरतलब हो कि टिंगखांग धमन केन्दुगुड़ी गांव के निपेन दत्त का एक जोडें बैल, हिमांत गोगोई की चार गाय कुल छ मवेशी बिति रात चोरी हुई थी,जिससे ग्रामीण क्षुब्ध थे ऐसे में जब्त वाहन के मालिक से लोगों ने गहन पुछताछ भी की । गाड़ी मालिक और कर्मचारी ने ग्रामीणों और स्थानीय पत्रकारों को बताया कि महज 100 / 150 रुपये के बदले बगैर कागजात के वाहन थाना क्षेत्र से निकल जाता है.

उन्होंने यह भी बताया कि स्थानीय दो युवकों के सहयोग से पिछले दस वर्षों से पशुओं की चोरी करते रहे है मौके पर पहुंचे टिंगखांग थाने के दो पुलिसकर्मियों ने ग्रामीणों से कहा कि महज 70/80 हाजार रुपये में व्यापार कर रहे व्यापारी भला इतने कागजात कहां से लाएगें.

उन्होंने अपनी खानापूर्ति कर बगैर किसी उचित कार्यवाई के वहां से लौट गये ऐसे में ग्रामीण निराश होकर कहते दिखे कि आखिर अब आम लोगों के जान और माल की हिफाजत भला कौन करेगा मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय और तनाव की वजह बना हुवा है. 
   
अन्य शहर लेख
वोट दें

केंद्रीय मंत्रीमंडल में बदलाव से क्या सरकार की कार्य संस्कृति बदलेगी?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack