Saturday, 16 December 2017  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

टैंक बैथलॉन में दोनों टैंक खराब होने पर भारत हुआ बाहर

टैंक बैथलॉन में दोनों टैंक खराब होने पर भारत हुआ बाहर नई दिल्‍ली: डोकलाम को लेकर भारत और चीन के बीच पिछले करीब डेढ़ महीने से तनातनी जारी है. दोनों देशों की सेनाएं एक-दूसरे के सामने 100 से 150 फीट की दूरी पर जमी हुई हैं. चीन भारतीय सेना को हटने के लिए लगातार गीदड़ भभकी दे रहा है. लेकिन भारत इस विवाद का हल बातचीत के जरिए निकालना चाहता है. दूसरी तरफ इन दिनों रूस में अंतरराष्ट्रीय सैन्य खेल 2017 में भारत और चीन की सेना प्रतियोगिता में हिस्‍सा ले रही हैं. इस प्रतियोगिता के पहले चरण में भारतीय सेना का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा.

प्रतियोगिता के पहले चरण में भारत, चीन, रूस और कजाकिस्‍तान समेत 19 देशों की टीमों ने हिस्‍सा लिया. पहले राउंड में भारतीय टैंक भीष्‍म ने बेहद शानदार प्रदर्शन किया. भीष्‍म के प्रदर्शन के आगे चीनी टैंक लड़खड़ा गया और उसके कई हिस्से अलग-अलग हो गए. पहले राउंड को क्‍वालिफाई कर भारत दूसरे राउंड में पहुंच गया. जिसका मुकाबला 10 अगस्‍त को हुआ. दूसरे राउंड में भारत T-90 टैंक लेकर शामिल हुआ था. एक प्रमुख टैंक को रिजर्व में रखा गया था. लेकिन रेस के दौरान दोनों टैंक खराब हो गए. इसके बाद भारत इस रेस के फाइनल राउंड से बाहर हो गया.

प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए गए भारत के दोनों टैंक तकनीकी कारणों से रेस को पूरा ही नहीं कर पाए. ऐसे में भारत को प्रतियोगिता से बाहर होना पड़ा. प्रतियोगिता का फाइनल 12 अगस्त यानी शनिवार को होना है. फाइनल में रूस, बेलारूस, कजाकिस्तान और चीन हिस्‍सा ले रहे हैं. आपको बता दें कि इस प्रतियोगिता में भारतीय सेना की शुरुआत काफी दमदार रही थी.

भारत के इस प्रदर्शन को देखते हुए जीत के प्रबल दावेदारों में शामिल माना जा रहा था. प्रतियोगिता के दूसरे राउंड में 48 किलोमीटर की रिले रेस हुई थी. रेस में रूस और कजाकिस्तान T-72B3 टैंक, बेलारूस T-72 और चीन 96बी टैंक के साथ शामिल हुए हैं.
अन्य राष्ट्रीय लेख
वोट दें

दिल्ली प्रदूषण से बेहाल है, क्या इसके लिए केवल सरकार जिम्मेदार है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack