श्रीलंका के खिलाफ जीत के साथ विराट की कप्तानी में लगातार 8वीं टेस्ट सीरीज़ जीता भारत

श्रीलंका के खिलाफ जीत के साथ विराट की कप्तानी में लगातार 8वीं टेस्ट सीरीज़ जीता भारत नई दिल्ली: चेतेश्वर पुजारा-अजिंक्ये रहाणे की शतकीय पारियों के बाद रविन्द्र जडेजा और आर अश्विन की बेहतरीन गेंदबाज़ी की मदद से भारत ने श्रीलंका को पारी और 53 रनों से हराकर 3 टेस्ट मैचों की सीरीज़ पर 2-0 से अपना कब्ज़ा जमा लिया है. इस जीत के साथ ही विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने लगातार 8वीं टेस्ट सीरीज़ भी जीत ली है.

श्रीलंका के सिंहली स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर खेले गए दूसरे टेस्ट मुकाबले के चौथे दिन रविन्द्र जडेजा ने अपनी गेंदबाज़ी का बेहतरीन नमूना पेश किया और श्रीलंकाई टीम की टेस्ट ड्रॉ करने की उम्मीदों पर बुरी तरह से पानी फेर दिया.

दिन के खेल के दूसरे सेशन में खेलने उतरे श्रीलंकाई शतकवीर दिमुथ करूणारत्ने और एंजेलो मैथ्यूज़ ने अच्छे हाथ दिखाए. लेकिन लंच के बाद वो जडेजा की गेंद पर 141 रन बनाकर अजिंक्ये रहाणे को कैच थमा बैठे. ओपनर बल्लेबाज़ दिमुथ ने टेस्ट के तीसरे दिन से ही अपनी टीम का भार अपने कंधों पर उठाए रखा और बेहतरीन शतकीय पारी भी खेली. दिमुथ के बाद दूसरे छोर पर संभलकर बल्लेबाज़ी कर रहे एंजेलो मैथ्यूज़ को भी जडेजा ने आउट कर मैच को भारत की झोली में डालने का पूरा मन बना लिया. मैथ्यूज़ 36 रन बनाकर जडेजा का तीसरा शिकार बने.

315 के कुल स्कोर पर मेज़बान टीम के 6 विकेट गंवाने के बाद जडेजा ने परेरा और डिसिल्वा को भी चलता किया और अपने टेस्ट करियर में 9वीं बार 5 विकेट चटकाए.

अंत में श्रीलंकाई टीम के बचे दो विकेट 380 के स्कोर पर आउट हो गए और टीम इंडिया को श्रीलंका में रिकॉर्ड दूसरी सीरीज़ जीत मिली.

इससे पहले लंच तक श्रीलंकाई टीम ने बेहद सधा हुआ खेल दिखाते हुए भारत की आज मैच खत्म करने की मंशा को पानी में मिला दिया था. लंच से पहले दिमुथ करुणारत्ने(नाबाद 136) और एंजेलो मैथ्यूज (नाबाद 28 रन) बनाकर खेल रहे थे. लंच के समय श्रीलंकाई टीम चार विकेट खोकर 302 रन बना चुकी थी. हालांकि, वह भारत की ओर से बनाए गए स्कोर से अब भी 137 रन पीछे थी. लेकिन लंच के बाद पासा पूरी तरह से पलट गया.

अपने तीसरे दिन के स्कोर दो विकेट पर 209 रनों से आगे खेलने उतरी मेजबान टीम ने रविवार को दिन के पहले सत्र में अपने दो विकेट गंवाए थे.

पहले दिन की नाबाद जोड़ी करुणारत्ने और मेलिंडा पुष्पकुमारा (16) ने तीसरे विकेट के लिए 40 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर 230 तक पहुंचाया था कि इसी स्कोर पर रविचंद्रन अश्विन ने पुष्पकुमारा को बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखाया.

इसके बाद करुणारत्ने का साथ देने आए कप्तान दिनेश चांडीमल केवल दो रन ही बना पाए थे कि वह रवींद्र जड़ेजा की गेंद पर अजिंक्य रहाणे के हाथों लपके गए. चांडीमल के आउट होने के बाद मैथ्यूज ने करुणारत्ने के साथ टीम की पारी को संभाला और भोजनकाल तक बिना कोई विकेट गंवाए 61 रनों की अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचाया. लेकिन लंच के बाद पूरी श्रीलंकाई टीम 84 रन जोड़कर अफने 6 विकेट गंवा बैठी.

भारत के लिए दूसरी पारी में रविन्द्र जडेजा ने 5, हार्दिक पांड्या और अश्विन ने 2 जबकि उमेश यादव ने एक विकेट चटकाया.

श्रीलंका के खिलाफ भारत ने अपनी पहली पारी में नौ विकेट के नुकसान पर 622 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया और इसी स्कोर पर अपनी पारी घोषित कर दी. इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका की पहली पारी 183 रनों पर ही समेट दी. पहली पारी में भारत की तरफ से आर अश्विन ने 5 विकेट चटकाए थे.

टीम इंडिया की पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा ने 133 रन, अजिंक्ये रहाणे 132 रन, रविन्द्र जडेजा 70, साहा 67, केएल राहुल 57 और अश्विन ने 54 रन बनाए थे.

कप्तान विराट कोहली ने इसके बाद श्रीलंका को फॉलोऑन देने का फैसला किया. जो मैच के आखिर में सही साबित हुआ.
अन्य क्रिकेट लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack