Tuesday, 17 September 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

किसान आंदोलन: पत्नी के साथ उपवास पर बैठे सीएम शिवराज, कृषि मंत्री बोले- कैसी कर्ज माफी

जनता जनार्दन डेस्क , Jun 10, 2017, 12:19 pm IST
Keywords: किसान   मध्य प्रदेश   विरोध प्रदर्शन   शिवराज सिंह चौहान   उपवास   मंदसौर   Madhya Pradesh   Chief Minister Fast   Shivraj Singh Chouhan Fast   Fast  
फ़ॉन्ट साइज :
किसान आंदोलन: पत्नी के साथ उपवास पर बैठे सीएम शिवराज, कृषि मंत्री बोले- कैसी कर्ज माफी भोपाल: मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन के 9वें दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में शांति बहाली के लिए उपवास शुरू कर दी है. उनके साथ उनकी पत्नी और कैबिनेट के कई मंत्री भी मौजूद हैं.

इस बीच प्रदेश के कृषि मंत्री जीएस बिसेन ने इस मामले में एक विवादास्पद बयान दे दिया है. उन्होंने कहा, 'मध्यप्रदेश में कर्जमाफी का स्थान नहीं बनता, क्योंकि हमनें किसान से ब्याज नहीं लिया. तो किस बात का कर्ज माफ होगा.'

इंदौर में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजवर्गीय किसानों से मुलाकात कर रहे हैं. यहां रेसीडेंसी कोठी में वह किसानों से उनकी समस्याओं पर बात कर रहे हैं.

सीएम के उपवास के लिए दशहरा मैदान में तीन लेयरों की सुरक्षा व्यवस्था की गई है. शहर के अलग-अलग इलाकों में 4000 से ज्यादा जवानों की तैनाती की गई है, इन जवानों को दंगा रोधी उपकरणों से लैस किया गया है. वहीं कांग्रेस के प्रदर्शन की संभावना को देखते हुए कांग्रेस भवन के बाहर भी बड़ी संख्या में जवानों को तैनात किया गया है.वहीं, कांग्रेस के ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट किया कि सीएम को मुख्यमंत्री को उपवास नहीं कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने लिखा, 'मंदसौर के पीड़ित परिवार न्याय का इंतजार कर रहे हैं. बहुत हुई नौटंकी अब राजधर्म अपनाइए. एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री दोषियों पर कार्रवाई करने, मृतकों के परिवारों को सांत्वना देने और जलते प्रदेश को शांत करने के बजाय उपवास-अनशन पर बैठने जा रहे हैं.'

सीएम ने कहा, एक कृषि उत्पाद और विपणन आयोग का गठन करेंगे जो कि लागत से जुड़े मामलों पर काम करेगा. समस्याएं जितनी भी है, उनके समाधान में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी.कांग्रेस करेगी सीएम हाउस का घेराव
वहीं, कांग्रेस शनिवार को सीएम हाउस का घेराव करेगी. कांग्रेस कार्यकर्ता दोपहर 12 बजे पीसीसी से सीएम हाउस तक करेंगे मार्च. यह घेराव किसानों के मुद्दे पर सरकार की नीतियो और किसानों और दर्ज मुकदमों के खिलाफ है.

 

इंटेलिजेंस एजेंसी अलर्ट

> MP इंटेलिजेंस ने प्रदेश पुलिस को किया अलर्ट.
> किसान आंदोलन को लेकर पुलिस की छुट्टी स्थगित.
> पुलिस मुख्यालय ने सभी एसपी को सतर्क रहने के दिए निर्देश.
> आईजी एसपी और वरिष्ठ अधिकारी मैदान में रहेंगे तैनात.
> दंगा रोधी उपकरणों के साथ लैस रहेगा.
> पुलिस फोर्स  को प्रदेशभर में आंदोलनकारी के उत्पात मचाने का मिला इनपुट.
> चक्काजाम आगज़नी रेल रोको जैसे आंदोलन का इनपुट
अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack