16 सालों के बाद आमिर खान ने संघ प्रमुख के हाथों स्‍वीकार किया यह अवॉर्ड

16 सालों के बाद आमिर खान ने संघ प्रमुख के हाथों स्‍वीकार किया यह अवॉर्ड मुंबई: 16 सालों के बाद पहली बार एक्‍टर आमिर खान ने न सिर्फ अवॉर्ड समारोह में शिरकत ही की बल्कि पुरस्‍कार भी ग्रहण किया.

दरअसल भारतरत्‍न लता मंगेशकर के परिवार द्वारा संचालित 75वें दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार के लिए आमिर खान को उनकी फिल्म 'दंगल' के लिए चुना गया.

आमिर खान को ये अवॉर्ड संघ प्रमुख मोहन भागवत के हाथों मिलना भी दिलचस्प रहा क्‍योंकि 2015 में असहिष्णुता के मुद्दे पर डर का माहौल बताते हुए पत्नी किरण राव के देश छोड़ने वाले बयान पर आमिर खान को भारी विरोध झेलना पड़ा था.

लता मंगेशकर के कहने पर आए आमिर खान लंबे समय से अवॉर्ड फंक्शन का बायकॉट करते रहे हैं. यही वजह है कि उनकी कई ऐसी फिल्में जिनके लिए उनको अवॉर्ड मिलने चाहिए थे, वो उनके हक में नहीं आए.

इससे पहले आमिर ऑस्कर सेरेमनी में नजर आए थे जब फि‍ल्म 'लगान' के लिए वो एकेडमी अवॉर्ड सेरेमनी में शामिल हुए थे. लेकिन इस बार आमिर ने लता मंगेशकर के लिए अपनी प्रतिज्ञा तोड़ दी.

आमिर खान के साथ वैजयंती माला और कपिल देव को भी सम्‍मानित किया गया.

आमिर खान के अलावा दिग्गज क्रिकेटर कपिल देव को क्रिकेट जगत में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए और अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री वैजयंती माला को हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में उनकी विशेष उपलब्धि के लिए मास्टर दीनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. इन दोनों सितारों को भी आरएसएस चीफ ने अवॉर्ड दिया.

हर साल मास्टर दीनानाथ मंगेशकर के सम्मान में अलग-अलग क्षेत्रों में बेहतरीन काम करने वालों को सम्मानित किया जाता हैं जिसमें संगीत क्षेत्र, समाज सेवा, नाटक, साहित्य और सिनेमा के क्षेत्र से जुड़े लोग शामिल होते हैं.
अन्य चर्चा में लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack