मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम का वादा जलीकट्टू पर अध्यादेश जल्द

मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम का वादा जलीकट्टू पर अध्यादेश जल्द चेन्नईः जलीकट्टू को लेकर तमिलनाडु में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन के बीच मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने शुक्रवार को सूबे के लोगों को भरोसा दिलाया है कि जलीकट्टू पर अध्यादेश अगले एक से दो दिनों में आ जाएगा.

पन्नीरसेल्वम ने यह भी कहा कि जलीकट्टू समारोह का वह खुद उद्घाटन करेंगे. गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात कर चेन्नै लौटे पन्नीरसेल्वम ने एयरपोर्ट पर पत्रकारों से कहा, 'आप सबकी इच्छा के अनुसार ही होगा.'

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि जलीकट्टू पर बैन हटाने के लिए राज्य सरकार ने जिस अध्यादेश को ड्राफ्ट किया है, उसे गृह मंत्रालय को भेजा जा चुका है। उन्होंने कहा, 'गृह मंत्रालय, कानून, पर्यावरण और वन मंत्रालयों से जरूरी मंजूरी मिलने के बाद अध्यादेश को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के पास उनकी मंजूरी के लिए भेजा जाएगा.'

तमिलनाडु के सीएम ने संकेत दिया कि शनिवार तक अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी मिल जाएगी. फिलहाल राष्ट्रपति मुखर्जी दौरे पर हैं और वह शुक्रवार रात को नई दिल्ली लौट रहे हैं.

पन्नीरसेल्वम ने कहा, 'एक या दो दिन में अध्यादेश को लेकर अच्छी खबर आएगी। राज्य में जलीकट्टू का निश्चित तौर पर आयोजन होगा.'

इस बीच जलीकट्टू पर बैन के खिलाफ पूरे तमिलनाडु में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन जारी है. सीएम के भरोसा देने के बावजूद चैन्नै के मरीना बीच और मदुरै के अलंगनल्लुर में विरोध-प्रदर्शन हो रहा है. विरोध-प्रदर्शनों में महिलाओं के साथ-साथ छोटे बच्चे भी शामिल हैं.
अन्य प्रांत लेख
वोट दें

क्या 2019 लोकसभा चुनाव में NDA पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ सकती है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack