Tuesday, 22 October 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

कश्मीर: उरी में पकड़े गए PoK के दो नागरिक, आर्मी का दावा- आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के लिए गाइड का काम करते थे

कश्मीर: उरी में पकड़े गए PoK के दो नागरिक, आर्मी का दावा- आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के लिए गाइड का काम करते थे नई दिल्ली:  उरी हमले के बाद आर्मी ने कश्मीर में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आर्मी का कहना है कि वे दोनों लोग आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के लिए गाइड का काम करते थे। दोनों आतंकियों को भारत में घुसकर हमला करने के लिए रास्ते बताते थे। ये दोनों ही लोग पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) के रहने वाले हैं। इन लोगों को उरी सेक्टर से ही गिरफ्तार किया गया है। आर्मी के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि पकड़े गए लोगों की पहचान अहसान खुर्शीद और फहसल के रूप में हुई है। खुर्शीद पीओके के खलीना कलां में रहता है और फैसल पुत्था जानगीर का रहने वाला है। दोनों को आर्मी और बीएसफ ने मिलकर बुधवार (21 सितंबर) को पकड़ा था। दोनों ही लड़कों की उम्र 15-16 साल के बीच है। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, दोनों को जमुन पोस्ट के पास के पकड़ा गया है जो कि लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) के पास है। हालांकि, आर्मी का यह भी कहना है कि दोनों का उरी हमले में कोई रोल नहीं है। कर्नल कालिया ने बताया कि पीओके में रहने वाले इन दोनों लड़कों को दो साल पहले ही भर्ती किया गया है। शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के अखनूर में भी एक शख्स को सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश करते पकड़ा गया। उस शख्स का नाम अब्दुल कयूम है। उसने पूछताछ में कई खुलासे किए। कबूल किया है कि उसे पाकिस्तान में आर्मी ट्रेनिंग दी गई थी, इसके अलावा उसने लश्कर के लिए फंड जुटाने की बात भी स्वीकार की है। गौरतलब है कि पिछले रविवार (18 सितंबर) को जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना के ऊपर आतंकियों ने हमला किया था जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद आर्मी ने बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी है। कई जगहों पर घुसपैठ की कोशिशों को भी सेना ने नाकाम किया है। उरी में घुसपैठ की कोशिश कर रहे 15 आतंकियों पर सेना ने फायरिंग की थी जिसमें से 10 आंतकी मारे गए थे बाकी 5-6 आतंकी वापस भाग गए थे।
अन्य आतंकवाद लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack