Thursday, 21 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

पीवी सिंधु का घर आगमन पर जोरदार स्‍वागत, निकला विजय जुलूस

जनता जनार्दन संवाददाता , Aug 22, 2016, 13:08 pm IST
Keywords: PV Sindhu homecoming   Olympic championPV Sindhu   Hyderabad airport   Pullela Gopichand   BEST bus   Rio Olympics 2016   पीवी सिंधु   घर आगमन   पीवी सिंधु स्‍वागत   विजय जुलूस  
फ़ॉन्ट साइज :
पीवी सिंधु का घर आगमन पर जोरदार स्‍वागत, निकला विजय जुलूस हैदराबाद: रियो ओलिंपिक की रजत पदक विजेता भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु का सोमवार को हैदराबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया. सिंधु ने रियो ओलंपिक में महिला एकल बैडमिंटन में रजत पदक जीता.

पीवी सिंधु आज सुबह ब्राजील से हैदराबाद पहुंचीं और एयरपोर्ट पर उनका स्‍वागत करने के लिए भारी भीड़ उमड़ी. उनके सैकड़ों प्रशसंक हवाईअड्डे पर पहुंचे थे. इसके बाद सिंधु के सम्‍मान में विजय जुलूस निकाला गया.

हैदराबाद एयरपोर्ट से गाचीबावली स्‍टेडियम तक निकल रहा ये विजय जुलूस निकाला जा रहा है. उन्हें गाचीबावली स्टेडियम तक खुली जीप में ले जाया जा रहा है. यहीं इस शीर्ष शटलर को सम्मानित किया जाएगा. सिंधु ने रियो ओलिंपिक में सिल्‍वर मेडल जीता है.  

सिंधु के साथ उनके कोच पुलेला गोपीचंद भी थे. सिंधु को एयरपोर्ट पर रिसीव करने उनके माता-पिता भी पहुंचे थे. हैदराबाद एयरपोर्ट से मुंबई की ट्रांसपोर्ट सेवा बेस्ट की डबल डेकर ओपन बस में सवार होकर सिंधु घर के लिए निकलीं.

इस विजय जुलूस की बस को फूलों से सजाया गया था. ओपन डबल डेकर में सिंधु और गोपीचंद 45 किलोमीटर का सफर तय करेंगे. इस दौरान सिंधु के गले में चांदी का मेडल था.

सिंधु को इस उपलब्धि के लिये बधाई देते हुए तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा कि सोमवार को शहर में उनके यहां पहुंचने के बाद एक भव्य स्वागत किया जाएगा.

तेलंगाना सरकार ने सिंधु के लिये पांच करोड़ रुपये के नकद पुरस्कार की घोषणा की थी और उन्हें गाचीबाउली में पुलेला गोपीचंद बैडमिंटन अकादमी के निकट 1,000 वर्ग गज का प्लाट भी दिया जाएगा. अगर वह इच्छुक हों तो उनके उचित सरकारी नौकरी भी दी जाएगी.

रेसलिंग की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक मंगलवार को भारत पहुंचेंगी. रियो ओलिंपिक के समापन समारोह में साक्षी ही भारत की ध्वजवाहक थीं. बता दें कि रियो में भारत का सफर बिना गोल्ड के खत्म हुआ.

पहलवान योगेश्वर दत्त को रविवार को समापन के दिन पहले ही राउंड में मंगोलिया के रेसलर ने पटखनी दे दी थी। रियो में दो मेडल हासिल कर मेडल टैली में भारत 67 वें नंबर पर रहा, जबकि 2012 लंदन ओलिंपिक में भारत को 6 पदक मिले थे.
अन्य ओलिंपिक लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack