इसरो बनाएगा रिकॉर्ड, 22 जून को किया जाएगा 20 उपग्रहों का प्रक्षेपण

इसरो बनाएगा रिकॉर्ड, 22 जून को किया जाएगा 20 उपग्रहों का प्रक्षेपण

बेंगलुरु: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) 22 जून को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से एक मिशन के तहत रिकॉर्ड 20 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा।

समीक्षा के बाद काउंटडाउन की अनुमति

ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण वाहन पीएसएलवी-सी 34 का इस्तेमाल भारत के पृथ्वी निगरानी अंतरिक्ष यान काटरेसैट-2 समेत उपग्रहों को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के दूसरे लांच पैड (एसएलपी) से सुबह नौ बजकर 25 मिनट पर ले जाने में किया जाएगा। इसरो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया,‘‘मिशन तैयारी समीक्षा (एमआरआर) समिति और लांच अधिकरण बोर्ड (एलएबी) की बैठक आने वाले दिनों में होगी और समीक्षा के बाद काउंटडाउन के लिए अनुमति दी जाएगी।’’

साल 2008 में भेजे थे 10 उपग्रह

अंतरिक्ष एजेंसी ने इससे पहले 2008 में एक मिशन के तहत कक्षा में 10 उपग्रह भेजे थे। इसरो ने कहा कि पीएसएलवी-सी 34 पर ले जाए जाने वाले सभी 20 उपग्रहों का वजन तकरीबन 1288 किलोग्राम है। साथ भेजे जाने वाले उपग्रहों में अमेरिका, कनाडा, जर्मनी और इंडोनेशिया के उपग्रहों के साथ-साथ भारतीय विश्वविद्यालयों के भी दो उपग्रह शामिल हैं।

अन्य विज्ञान-तकनीक लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack